अब नहीं कर सकेंगे ट्रैन यात्रा के दौरान रात्रि में तेज़ आवाज में बात और ना सुन सकेंगे तेज़ संगीत

ट्रैन यात्री नहीं कर सकेंगे ट्रैन यात्रा के दौरान रात्रि में तेज़ आवाज में बात और ना सुन सकेंगे तेज़ संगीत ,भारतीय रेल्वे ने बनाए हैं नियम , नहीं कर सकते ये काम , करते पाए जाने पर हो सकती है दंडात्मक कार्यवाही

Indian Railway

ट्रैन यात्रा भारतीय जीवन शैली का एक महत्वपूर्ण और अभिन्न हिस्सा है। अधिकतम यात्राएँ हमारे देश में ट्रैन के माध्यम से पूरी होती हैं। ट्रैन की इन यात्राओं के दौरान जहाँ यात्रियों को कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ता है, वहीं कुछ यात्री अन्य यात्रियों के समक्ष समस्याएं उत्पन्न करने का भी कार्य करते हैं। विशेषतः रात्रि के समय समस्याओं की अधिकता देखने को मिलती है।

Read More : Indore : कांग्रेस प्रत्याशी महावीर जैन ने आज मुख्य चुनाव कार्यलय का किया उद्घाटन

भारतीय रेल्वे ने बनाए हैं नियम, नहीं कर सकते ये काम

भारतीय रेलवे के बनाए नियमों के अनुसार किसी भी यात्री को रात 10 बजे के बाद तेज आवाज में बात करने की अनुमति नहीं है और इसके साथ ही यात्री रात में तेज आवाज में संगीत भी रेल यात्रा के दौरान नहीं सुन सकेंगे। यदि कोई यात्री ऐसा करते हुए पाया जाता है तो भारतीय रेल्वे उस पर सख्त कार्यवाही कर सकता है।

Read More : Esha Gupta ने ब्लैक ड्रेस में फ्लॉन्ट किया अपना Perfect Figure, तस्वीरें वायरल

इसके अलावा रात्रि में बेवजह लाइट ऑन रखने की भी शिकायतें रेल यात्रियों द्वारा अक्सर की जाती रहीं हैं। भारतीय रेल्वे के अनुसार यात्रा के दौरान रात्रि में केवल नाइट लाइट ही जलाई जा सकती है, अन्य किसी प्रकार की लाइट ऑन रखने का प्रावधान भारतीय रेल्वे के अनुसार नहीं है। ऐसा पाया जाने पर भी रेल्वे स्थितिनुसार एक्शन ले सकता और दंडात्मक कार्यवाही कर सकता है।

भारतीय रेल्वे के स्टॉफ के लिए भी हैं निर्देश

भारतीय रेल्वे ने यात्रा के दौरान रात्रि में जहां यात्रियों के लिए कुछ नियम घोषित कर रखे हैं , वहीँ अपने स्टॉफ के लिए भी रात्रि के दौरान यात्रियों की सुविधा का ध्यान रखते हुए ,शांति से ड्यूटी करने के निर्देश दिए हैं। चेकिंग स्टॉफ, आरपीएफ, केटरिंग स्टॉफ , सफाईकर्मी सहित भारतीय रेल्वे के सभी स्टॉफ सदस्यों को यह निर्देश दिए गए हैं।