अब गर्भ गृह में महाकाल के दर्शन कर सकेंगे श्रद्धालु, बस रखना होगा इस दिन का ध्यान

0
266

उज्जैन। भूतभावन बाबा महाकाल के भक्तों के लिए खुशखबरी है। जी हां भगवान महाकाल के भक्त अब रविवार को छोड़कर हर रोज सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक गर्भगृह से अपने आराध्य के दर्शन कर सकेंगे। यानी भक्त इस दौरान न केवल बाबा महाकाल के ज्योतिर्लिंग पर जल चढ़ाकर अभिषेक कर सकेंगे, बल्कि दिव्य ज्योतिर्लिंग का स्पर्श कर सकेंगे।

हालांकि ये बात अलग है कि ये व्यवस्था अभी प्रायोगिक तौर पर लागू की गई है। बाद में इसका अध्ययन कर इसे स्थाई तौर पर लागू किया जा सकेगा। बुधवार को श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में ये महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। बैठक में श्रद्धालुओं के लिए 5 ग्राम का भगवान महाकालेश्वर के मंदिर की छाप वाला चांदी का सिक्का भी उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया गया। श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति ने उक्त आशय का निर्णय लेते हुए निर्देश दिए हैं कि आगामी एक सप्ताह में 5 ग्राम के सिक्के दानराशि निर्धारित कर प्रसाद काउंटर से उपलब्ध करवाए जाए।

बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर शशांक मिश्र ने की। बैठक में पुलिस अधीक्षक सचिन अतुलकर, नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल, प्रशासक अवधेश शर्मा, समिति सदस्य आशीष पुजारी, विजयशंकर पुजारी एवं दीपक मित्तल, महंत रामेश्वरदास मौजूद थे। बैठक में निर्णय लिया गया कि भगवान महाकालेश्वर के दर्शन करने वाले श्रद्धालु यदि उज्जैन में एक या दो दिन रूकते हैं तो इससे शहर के पर्यटन एवं आर्थिक विकास में वृद्धि होगी।

इसके लिए श्रद्धालुओं को महाकालेश्वर मंदिर की ओर से क्या सुविधाएं दी जा सकती हैं, इस पर निर्णय करने के लिए भी कलेक्टर ने एक समिति को सुझाव देने के लिए कहा है।

52.84 करोड़ का बजट पेेेश

बैठक में महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की ओर से आय-व्यय पत्रक को मंजूरी दी गई। वर्ष 2018-19 में 4594 लाख रुपए की आय हुई और व्यय 3970.30 लाख रुपए का हुआ। वहीं वर्ष 2019-20 में 5 हजार 284 लाख रुपए की आय, जबकि 4 हजार 638 लाख रुपये व्यय का बजट प्रस्तावित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here