अब किसी ने जबरदस्ती मांगा आधार कार्ड तो जाना होगा जेल, लगेगा जुर्माना

0
44
aadhar card

नई दिल्ली: आधार कार्ड हर सरकारी योजना के लिए अनिवार्य हो गया है। बैंक खाता हो, मोबाइल नंबर लेना हो या कोई और काम हो हर जगह आधार की अनिवार्यता हो गई है लेकिन अब बैंक खाता खोलने और नया मोबाइल कनेक्शन लेने के लिए आधार कार्ड जरुरी नहीं होगा।

मिली कैबिनेट की मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में The Aadhaar and Other Laws बिल को मंजूरी मिल गई है। इसका मतलब है कि यह Aadhar and Other Laws Ordinance, 2019 की जगह लेगा। इस विधेयक को संसद के अगले सत्र में रखा जाएगा।

लग सकता है जुर्माना

अब कोई भी कंपनी या संस्था आपसे जबरदस्ती आधार कार्ड नहीं मांग सकती। जबरदस्ती आधार कार्ड मांगने पर एक करोड़ तक के जुर्माने के प्रावधान है। इसके साथ ही हर दिन 10 लाख रुपये तक का अतिरिक्त जुर्माना लगाया जा सकता है। इसके अलावा आधार का गलत इस्तेमाल करने पर 10 हजार रुपये तक का जुर्माना और तीन साल की कैद भी हो सकती है।

इसके बारे में…

  • सरकार की ओर से जारी जानकारी में बताया गया है कि इस फैसले के आधार पर अब UIDAI को लोगों के हित में फैसले लेने और आधार के गलत प्रयोग को रोकने में मदद मिलेगी।
  • किसी भी व्यक्ति को आधार के जरिये अपनी पहचान प्रमाणित करने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकेगा।
  • बैंक खाता खोलने और मोबाइल सिम के लिए आधार देना अनिवार्य नहीं होगा।
  • बच्चों को भी 18 साल के बाद अपना आधार नंबर रद्द कराने का अधिकार है।
  • केंद्र और राज्य सरकार सिर्फ वहीं पहचान प्रमाणित करने के लिए आधार जरूरी कर सकती है, जहां अथॉरिटी द्वारा निर्धारित सुरक्षा संबंधी चिंताएं हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here