नवरात्रि 2019: माता की यह नौ चमत्कारी ज्वाला, दर्शन भर से पूरी होती है सभी मनोकामना

0
49
devi

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार देवी सती के शव पर जब भगवान विष्णु ने प्रहार किया तो उनके टुकडे पृथ्वि के 52 जगहों पर गिरे थे। जहां भी मां सती के शव के टुकडे गिरे थे इन्हें शक्तिपिठ के नाम से जाना गया। 52 शक्तिपिठों में से एक हिमाचल प्रदेश में भी हैं। यहां माता ज्वाला देवी मंदिर देश भर में प्रसिद्ध है। पुराणों के अनुसार यहां पर माता की जीभ गिरी थी।

मान्यताओं के अनुसार यहां माता की कोई मुर्ति नहीं है बल्कि यहां हर समय ज्वाला जलती है जिसे माता के रुप में माना जाता हैं। ज्वाला देवी मंदिर में सदियों से प्राकृतिक रूप से 9 ज्वालाएं बिना तेल बाती के जल रही हैं। इन मंदिरों में मूर्तियां नहीं हैं, बल्कि ज्योति ही माता के रूप में हैं। मंदिर के गर्भगृह में ज्वाला को माता का स्वरूप मानकर पूजा जाता हैं। मंदिर में जलने वाली यह 9 ज्वाला माता के नौ रुपों को दर्शाति हैं।

1- सबसे पहली ज्वाला महाकाली मां की है। मां अपने भक्तों को सभी तरह से निर्भीक और सुखी बना देती हैं। वे अपने भक्तों को सभी तरह की परेशानियों से बचाती हैं।

2- दूसरी ज्योति माता महामाया की है, जिन्हें भक्त मां अन्नपूर्णा भी बोलते है। मान्यता है कि जिस घर में अन्नपूर्णा देवी का आशीर्वाद होता हैं, उस घर में कभी भी अन्न की कमी नहीं पड़ती।

3- तीसरी ज्योति मां चंडी की है। मान्यता के अनुसार मां चंडी के आशीर्वाद से सभी शत्रुओं का नाश हो जाता है।

4- चैथी दिव्य ज्योति मां हिंगलाज भवानी की है। इनके आशीर्वाद से जीवन की सभी दिक्कतें दूर हो जाती है।

5- पांचवी ज्योति का स्वरुप मां विन्ध्यवासिनी का है। माता को मुक्तदायनी भी कहा जाता है क्योंकि मां के आशीर्वाद से सभी पापों से मुक्ति मिल जाती हैं।

6- छठी ज्योति मां लक्ष्मी की है। मां की कृपा से जीवन में कभी आर्थिक परेशानियां नहीं आती है। मां के आशीर्वाद से धन-धान्य की वर्षा हो जाती है।

7- सातवीं ज्योति विद्यादायनी मां सरस्वती की है। मां सरस्वती के आशीर्वाद से मूर्ख भी ज्ञानी बन जाता है। कालिदास जी मां के आशीर्वाद से विद्वान हुए थे।

8- आठवीं ज्योति मां अंबिका की है। मां के आशीर्वाद से सुख में वृद्धि होती है।

9-नवीं ज्योति माता अंजनी की है। माता की कृपा से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here