Breaking News

SCO के सम्मेलन में भाग लेने चीन पहुंचे मोदी, टेरर फंडिंग का मुद्दा उठाएंगे

Posted on: 09 Jun 2018 09:15 by krishna chandrawat
SCO के सम्मेलन में भाग लेने चीन पहुंचे मोदी, टेरर फंडिंग का मुद्दा उठाएंगे

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मलेन में शामिल होने के लिए चीन पहुंच चुके है। मोदी का 42 दिन के बाद चीन में दूसरा दौरा है। इस समिट में भारत और पाकिस्तान पहली बार शामिल होंगे सूत्रों के मुताबिक विदेश मंत्रालय ने कहा है कि मोदी पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन से नहीं मिलेंगे। इस सम्मलेन में पाक सहित 8 देश शामिल है।modi+chinप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस यात्रा के पहले कहा कि एससीओ के साथ भारत के सम्पर्क की एक नई शुरूआत होगी और इस संगठन का पूर्ण सदस्य बनाने  के बाद  हमारा रिश्ता समिट में शामिल देशो के साथ और भी अच्छा होगा। मोदी ने कहा, मेरा मानना है कि चिंगदाओ शिखर सम्मेलन एससीओ एजेंडा को और समृद्ध करेगा। आपको बता दे मोदी इस शिखर सम्मलेन में आतंकवाद और टेरर फंडिंग जैसे मुद्दे को उठाने वाले है।

भारत सहित ये 8 देश है शामिल 

आर्थिक, सैन्य और राजनीतिक सहयोग के लिए इस दल का गठन 2001 में किया गया था । इसकी शुरुआत शंघाई सहयोग संगठन स्थापना रूस, चीन, किर्गिस्तान, कजाकिस्तान, तजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान देशों के राष्ट्रपतियों  ने मिलकर की थी। भारत और पाक इसकी सदस्यता पिछले साल ही मिली है।

ये प्रमुख मुद्दे रहेंगे इस समिट के 

चीन में भारत के राजदूत गौतम बंबावले के मुताबिक, मोदी, शी जिनपिंग समेत कई नेताओं से मुलाकात करेंगे। इस बार की समिट में मुख्य मुद्दे सुरक्षा सहयोग, आतंकवाद, आर्थिक विकास के साथ सांस्कृतिक आदान-प्रदान होगा। कई मुद्दे पर चीन और भारत एक पक्ष नहीं हैं जिस मामले में वो दोनों एक पक्ष नहीं है उन मसलों पर दोनों देश के नेता आगे की रणनीति तय करेंगे । चीन, रूस और भारत तीनों इसके सदस्य हैं। ऐसे में ये तीनो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अहम भूमिका अदा कर सकते हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com