मानवीय संवेदनाओं के साथ कार्य करने वाले का नाम इतिहास में होते हैं दर्ज – राज्यपाल

जो व्यक्ति सामाजिक और राजनीतिक जीवन में मानवीय संवेदना की भावना लेकर कार्य करता है, उसका नाम इतिहास में अंकित हो जाता है।

0
16
ukai

जो व्यक्ति सामाजिक और राजनीतिक जीवन में मानवीय संवेदना की भावना लेकर कार्य करता है, उसका नाम इतिहास में अंकित हो जाता है। ऐसे ही व्यक्तित्व के धनी स्व.मनहरण लाल पाण्डेय ने इस क्षेत्र और प्रदेश के विकास के साथ ही भूखे, पीडि़त एवं शोषित लोगों के लिए कार्य किया। आज एकत्रित होकर हम उनको याद कर रहे हैं। राज्यपाल अनुसुईया उईके आज बिलासपुर जिले के तखतपुर में पूर्व मंत्री एवं सांसद स्व.मनहरण लाल पाण्डेय की 81वीं जयंती के अवसर पर आयोजित सम्मान समारोह को संबोधित कर रही थी।

राज्यपाल उईके ने अपने राजनैतिक जीवन का उल्लेख करते हुए कहा कि यही मानवीय भावना और संवेदना को लेकर काम प्रारंभ किया। उन्हें राष्ट्रीय स्तर के अनेक पद का सम्मान मिला। वे ईमानदारी और निष्ठा से कार्य किया। आज उन्हें छत्तीसगढ़ के राज्यपाल के रूप में पद मिला है। उन्होंने कहा कि जब से छत्तीसगढ़ आयी हैं, यहां के लोगों का अपनापन और विश्वास मिला है। राज्यपाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लोग सहज और सरल हैं।

उईके ने स्वर्गीय मनहरण लाल पाण्डेय की पुत्री और राष्ट्रीय महिला आयोग की सलाहकार सदस्य श्रीमती हर्षिता पाण्डेय को बधाई देते हुए कहा कि आपमें वो प्रतिभा है, आपके पिता जी के सपनों को साकार करेंगी। उन्होंने कहा कि यह मौका स्वर्गीय मनहरण लाल पाण्डेय की समाज सेवा और उनके उल्लेखनीय योगदान का स्मरण कर अनुसरण करने का है। राज्यपाल ने समाज सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले गणमान्य नागरिकों एवं मेधावी छात्रों को अपनी शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विधानसभा प्रतिपक्ष के नेता श्री धरमलाल कौशिक ने कहा कि किसी भी महापुरूष का पुण्य तिथि मनाई जाती है, निश्चित रूप से उनका समाज में योगदान है। ऐसे ही स्वर्गीय मनहरण लाल पाण्डेय जी थे। उनके कार्यों से समाज को प्रेरणा मिलती है। वे क्षेत्र के विकास के लिये विभिन्न सिंचाई परियोजना की आधारशिला रखी। उन्होंने सांसद और मंत्री रहते हुए अनेक उल्लेखनीय कार्य किया। उन्होंने अपने कर्तव्यों का बखूबी निर्वहन किया।

राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने स्वर्गीय मनहरण लाल पाण्डेय के व्यक्तित्व एवं कृतित्व का उल्लेख करते हुए कहा कि समाज के जरूरतमंद लोगों के लिये कार्य करने की प्रेरणा मिलती है। उनकी स्मृतियों को अक्षुण बनाये रखने के लिये यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है। कार्यक्रम के प्रारंभ में राष्ट्रीय महिला आयोग की सलाहकार सदस्य हर्षिता पाण्डेय ने अपने स्वागत उद्बोधन मंे स्वर्गीय मनहरण लाल पाण्डेय द्वारा क्षेत्र के विकास के लिये किये गये योगदान का उल्लेख की।

कार्यक्रम में मेधावी छात्रों, समाज सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले गणमान्य नागरिकों, स्वच्छता, गौ-सेवा समिति, व्यापारी संघ, ब्लड डोनेशन, परमेश्वरी महोत्सव समिति, पतंजलि योग समिति, गायत्री परिवार एवं श्रीरामचरित मानस समिति को सम्मानित किया गया। आभार व्यक्त श्रीमती नम्रता शर्मा ने की। कार्यक्रम में सांसद अरूण साव, पूर्व मंत्री श्री अमर अग्रवाल, पूर्व मंत्री एवं विधायक डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, पूर्व सांसद लखन लाल साहू, गृह निर्माण मंडल के पूर्व अध्यक्ष भूपेन्द्र सवन्नी, स्व.मनहरण लाल पाण्डेय की धर्मपत्नी श्रीमती निर्मला मनहरण पाण्डेय, प्रशासनिक अधिकारी सहित बड़ी संख्या में क्षेत्र के गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here