Breaking News

नागपुर विश्वविद्यालय पढ़ाएगा आरएसएस का इतिहास, पाठ्यक्रम में हुआ शामिल

Posted on: 09 Jul 2019 21:12 by bharat prajapat
नागपुर विश्वविद्यालय पढ़ाएगा आरएसएस का इतिहास, पाठ्यक्रम में हुआ शामिल

नागपुर विश्वविद्यालय (राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय) अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का इतिहास और राष्ट्र निर्माण में इसकी भागीदारी को भी पढाया़ जाएगा। जिसके चलते अब इसे विश्वविद्यालय के बीए (इतिहास) द्वितीय वर्ष के पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। गौरतलब है कि नागपुर में ही संघ का मुख्यालय भी है।

इसके पहले भाग में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की राजनीतिक शुरुआत के बारे में जानकारी दी गई है और दूसरे भाग में सविनय अवज्ञा आंदोलन से जुड़ी जानकारियां दी गई है वहीं तीसरे भाग में राष्ट्र निर्माण में आरएसएस की भूमिका की जानकारी दी गई है।

विश्वविद्यालय के बोर्ड ऑफ स्टडीज के सदस्य सतीश चफले ने मंगलवार को बताया कि बीए द्वितीय वर्ष के चैथे सेमेस्टर में भारत का इतिहास (1885 से 1947) इकाई में राष्ट्रीय स्वयंसेवक की भूमिका पर आधारित पाठ्यक्रम को शामिल किया गया है। जिसका मकसद छात्रों को इतिहास में नए रुझानों के बारे में जागरूक करना है।

गौरतलब है कि वर्ष 2003-04 में विश्वविद्यालय के इतिहास के पाठ्यक्रम में एक पाठ ‘आरएसएस‘ का परिचय भी शामिल था। सतीश ने बताया कि ‘इस साल हमने इतिहास के छात्रों के लिए राष्ट्र निर्माण में संघ की भूमिका का पाठ जोड़ा है ताकि उन्हें इतिहास में हो रहे नए रुझानों का पता चल सके। मार्क्सवाद और नया मार्क्सवाद या नया आधुनिकतावाद नए रुझानों के तौर पर इतिहास का हिस्सा बने हैं।’

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com