मुंबई के सुपरकॉप हिमांशु रॉय ने की खुदकुशी

0
31

मुंबई। महाराष्ट्र पुलिस के वरिष्ठ अफसर एटीएस प्रमुख रहे 1988 बैच के आपीएस हिमांशु रॉय ने शुक्रवार दोपहर अपनी सर्विस रिवॉल्वर से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वे दिग्गज और सख्त मिजाज अफसरों में गिने जाते हैं। रॉय आईपीएल क्रिकेट मैच फिक्सिंग की जांच में शामिल रहे इसके अलावा पत्रकार जेडे हत्याकांड और अंडरवल्र्ड डॉन दाउद इब्राहिम की संपत्ति जांच के मामले में भी शामिल रहे। मुंबई पुलिस में पहली बार साइबर सेल गठित करने का श्रेय भी इन्हें ही जाता है।

५५ वर्षीय रॉय ने आज दोपहर पौने दो बजे अपने निवास पर खुद को गोली मार ली। इस घटना के वक्त घर पर उनकी पत्नी और वे अकेले थे। उन्हें पत्नी तुरंत बॉम्बे हॉस्पिटल लेकर गईं, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। खबर मिलने पर महाराष्ट्र के वरिष्ठ पुलिस अफसर हॉस्पिटल पहुंच गए थे। बताया जाता है कि वे पिछले कुछ दिनों से ब्लड कैंसर से पीड़त थे और इसी गंभीर बीमारी के चलते वे कुछ दिनों से डिप्रेशन में थे। बीमारी से तंग आकर आज उन्होंने अपनी जान दे दी।

इसलिए जाने जाते हैं रॉय
मुंबई पुलिस के एटीएस प्रमुख रहे हिमांशु रॉय ने कई बड़े मामलों का खुलासा किया। उन्होंने आईपीएल क्रिकेट मैच फिक्सिंग का मामला पकड़ा था। इसके अलावा कई आंतकवादी गतिविधियों को वे निष्फल कर चुके थे। उन्होंने मुंबई के ही एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को आतंकवादी गतिविधियों के चलते गिरफ्तार किया था, यह व्यक्ति मुंबई में एक नामचीन स्कूल में बम से विस्फोट करने की योजना बना रहा था। इसके अलावा उन्होंने बिंदु दारा सिंह और मैयप्पन की गिरफ्तारी भी की थी। वे पहली बार महाराष्ट्र पुलिस में साइबर सेल गठित करने वाले अफसर थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here