मायानगरी में उतरा चांद, हैरानी के साथ ख़ुशी से उछले लोग

रोशनी पड़ने पर वह एकदम चांद जैसा दिखाई देता है। गुंबद पर चांद के दक्षिणी ध्रुव को पेंटिंग बनाई गई है।

0
63
moon

मुंबई: एक तरफ वैज्ञानिक चांद पर पहुंचने के लिए इतनी मेहनत कर रहे है, वही दूसरी ओर चांद खुद धरती पर आ गया है। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे संभव है। ऐसे ही मायानगरी के लोग भी उस समय हैरान रह गए जब उन्हें जमीन पर बेहद बड़ा चांद दिखाई दिया। सफ़ेद रौशनी से जगमगाते इस चांद को देखकर लोगों की ख़ुशी का ठिकाना ही नहीं था।

moon in mumbai

यह चांद मुंबई की नेहरु तारामंडल की छत पर उतरा था। दरअसल, तारामंडल के मुख्य इमारत की गुंबद को चांद की तरह बदल दिया गया है। रोशनी पड़ने पर वह एकदम चांद जैसा दिखाई देता है। गुंबद पर चांद के दक्षिणी ध्रुव को पेंटिंग बनाई गई है।

नेहरू तारामंडल के निदेशक अरविंद परांजपे ने बताया कि यह भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के चंद्रयान मिशन को ट्रिब्यूट है। हम चाहते हैं कि देश के वैज्ञानिकों का नाम रोशन हो। वो और बेहतरीन काम करें।

बताया जा रहा है कि देश में यह कलाकृति चांद की सबसे बड़ी पेंटिंग है। इसे कलाकार गुलमोहम्मद बुकारी ने बनाया है।. बुकारी को शरद नाम से भी बुलाया जाता है। अरविंद परांजपे ने बताया कि हम दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, गोवा, कोयंबटूर और चंडीगढ़ में पब्लिक आर्ट फेस्टिवल कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here