Breaking News

माउंट लिट्रा ज़ी स्कूल, इंदौर में स्थापना दिवस एवं ग्रेजुएशन उत्सव की धूम

Posted on: 19 Jun 2019 10:31 by Surbhi Bhawsar
माउंट लिट्रा ज़ी स्कूल, इंदौर में स्थापना दिवस एवं ग्रेजुएशन उत्सव की धूम

इंदौर: नेमावर रोड स्थित माउंट लिट्रा ज़ी स्कूल के सभागृह में विद्यालय का सातवाँ स्थापना दिवस अत्यंत धूमधाम से मनाया गया। ऐसा प्रतीत हुआ मानो आसमान धरती से आ मिला, कारण सभी नीले रंग के और सफ़ेद रंग के परिधान मे सुशोभित हो रहे थे। कार्यक्रम का शुभारम्भ माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण करके किया गया। बारहवीं कक्षा के सभी उत्तीर्ण छात्रों एवं उनके अभिभावकों का स्वागत उचित आदर सत्कार के साथ किया गया। तत्पश्चात उन्हें स्थानग्रहण करने को कहा गया। इस अवसर पर कक्षा 6वीं से 7वीं के छात्रों ने गणेश वंदना प्रस्तुत की।

विद्यालयीन निर्देशक श्री मयंकराजसिंह भदौरिया जी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि संस्था ने शिक्षा के क्षेत्र मे अपनी अलग पहचान बनाई है। संस्था का उद्देश्य छात्रों को सुशिक्षित करने के साथ – साथ संस्कारित करना भी रहा है। अपने आदर्शों पर चलकर संस्था आज भी ऊँचाइयों के नए आयाम को छू रही है।

विद्यालयीन सी.ई.ओ श्री रूपेश वामा जी ने कहा कि विद्यालय ने छात्रों की उन्नति के लिए अथक प्रयास एवं इन्हें अवसर प्रदान किए हैं। इस दौरान छात्रों ने विभिन्न कार्यक्रम प्रस्तुत किए जैसे गीत – संगीत प्रस्तुति के बाद छात्रा कुमारी मिताली सोनी द्वारा स्थापना दिवस पर भाषण दिया गया शिक्षक बृंद ने सामूहिक गीत गाकर अपना अमूल्य योगदान दिया।

स्थापना दिवस के साथ – साथ इस दिन ग्रेजुएशन सेरेमनी भी धूमधाम के साथ मनाई गई। अपने पारम्परिक गणवेश में कक्षा 12वीं के विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान की गई। इसके साथ ही विद्यालयीन 12वीं के मेधावी छात्रों को स्कॉलरशिप प्रदान की गई एवं इनके आगे की पढ़ाई के लिए भी छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। उपस्थित छात्र-छात्राएं विद्यालय में वृक्षारोपन कर एक नए सफर का आगाज करेंगे। इस साल से एलुमनाई कमेटी का गठन भी किया गया है। हेड गर्ल अंजलि जैन ने आभार प्रकट किया एवं उपस्थित सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने केक काटकर उत्सव का समापन किया। विद्यालयीन उप प्रधानाचार्या सुश्री नलिनी चौहान जी ने स्थापना दिवस की शुभकामनाएँ एवं छात्रों के उज्जवल भविष्य की कमाना करते हुए आशीर्वाद प्रदान किया।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com