Breaking News

माँ से किया था वादा…न शराब न सिगरेट को हाथ लगाते है ब्रेथवेट

Posted on: 24 Jun 2019 13:52 by Surbhi Bhawsar
माँ से किया था वादा…न शराब न सिगरेट को हाथ लगाते है ब्रेथवेट

इंग्लैंड से परीक्षित यादव

कार्लोस ब्रेथवेट को कल तक जमाना टी 20 विश्वकप के फाइनल (इंग्लैंड के खिलाफ 4 छक्के) के लिए याद रखता था लेकिन अब वह मैनचेस्टर में न्यूजीलैंड के खिलाफ लगाए सैकड़े के लिए भी याद रखे जाएंगे। यह सब तो वह है जो जमाना जानता है ,लेकिन ब्रेथवेट का एक और पहलू है जो उन्हें विंडीज वालों से अलग बनाता है। ना तो वह सिगरेट पीते हैं ,और ना ही शराब को हाथ लगाते हैं। हर तरह के नशे से तौबा कर रखी है।

मां से वादा किया है कि कभी नशा नहीं करूंगा। विंडीज की टीम को पार्टी शराब और मस्ती पसंद लेकिन कार्लोस सिर्फ बैठे देखते हैं। टीम वाले मजाक भी उड़ाते हैं, लेकिन वह किसी को जवाब नहीं देते। यह सारी मौज कभी उन्हें भी पसंद थी लेकिन मां के लिए सब छोड़ दिया। बारबाडोस में जन्मे कार्लोस ने अपने हीरो विवियन रिचर्ड्स को देखकर खेलना शुरू किया। बॉब मर्ली के भी दीवाने हैं।

मैदान पर मेहनत और मर्ली की दीवानगी पार्टी और मस्ती जारी थी ।उन्हीं की तरह बड़े बड़े मोटे बाल भी रख लिए थे। फिर एक दिन पता चला की माँ जेसलीन को कैंसर हो गया है ।उनके इलाज में सब कुछ दांव पर लग गया ।मां की सेवा करते करते खेलना जारी रखा ।कीमोथेरेपी के दौरान मां के सारे बाल चले गए । माँ की हौसलाफजाई के लिये कार्लोस ने भी अपने बड़े बड़े बाल कटवा दिए।

विंडीज के ड्रेसिंग रूम में भी मजाक मस्ती और ठिठोली सबसे ज्यादा होती है। सोशल मीडिया पर तस्वीरें -वीडियो आते रहते हैं ,लेकिन ब्रेथवेट शांत रहते हैं। चर्च जाना भी नहीं भूलते। खराब शॉट सिलेक्शन के लिए कोच और कप्तान से फटकार मिलती रहती है। हर बार अच्छी शुरुआत करने के बाद कमजोर शॉट मार कर आउट होना उनकी आदत है, लेकिन खुद के खिलाफ लड़ाई जारी है। बहुत कुछ तो ऐसा नहीं है विंडीज़ के महान खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल हो सकें। हां पर कुछ काम ऐसा कर दिखाया है, जो उन बड़े बड़े नाम वालों के बस का भी नहीं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com