Breaking News

PM Modi ने काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर की रखी नींव| PM Narendra Modi’s Speech At Kashi Vishwanath Temple In Varanasi

Posted on: 08 Mar 2019 11:22 by Ravindra Singh Rana
PM Modi ने काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर की रखी नींव| PM Narendra Modi’s Speech At Kashi Vishwanath Temple In Varanasi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार सबह अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच गए है। पीएम मोदी ने काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के लिए फावड़े से खोदा गड्ढा और पांच शिलाओं को रख कर शिलान्यास किया। काशी में सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा-  जब मैं प्रधानमंत्री नहीं था, तब भी यहां आता था और मुझे लगता था की यहां कुछ करना चाहिए। लेकिन भोले बाबा ने तय किया होगा कि बेटे बातें बहुत करते हो यहां आओ और कुछ करके दिखाओ और आज भोले बाबा के आशीर्वाद से वो सपना पूरा हो रहा है।

Read More:- Rahul का Modi पर तंज, गायब हो गया अब नई लाइन है, सरकार का काम ही है गायब करना| “Gayab Ho Gaya Hai Is New Line”: Rahul Gandhi On “Stolen” Rafale Papers

सदियों से ये स्थान दुश्मनों के निशाने पर रहा, कितनी बार ध्वस्त हुआ, अपने अस्तित्व के बिना जिया। लेकिन यहां की आस्था ने इसे पुनर्जीवित किया और ये क्रम सदियों से चल रहा है।

जब महात्मा गांधी यहां आये थे, तो उनके मन में भी ये पीड़ा थी की भोले बाबा का स्थान ऐसा क्यों? और BHU के एक कार्यक्रम में बापू अपने मन की व्यथा बताने से खुद को रोक नहीं पाए थे। अब मां गंगा को सीधे बाबा भोलेनाथ से जोड़ दिया गया है। अब श्रद्धालु गंगा स्नान करके सीधे भोले बाबा के दर्शन करने आ सकेंगे।

Read More:- मैं आतंकवाद को और विपक्ष मुझे हटाने की कर रहा कोशिश, बोले- मोदी | I try to remove terrorism and opposition to me, say-Modi

यूपीए सरकार पर साधा निशाना

पिछले कई सालों से भोले बाबा की चिंता किसी ने नहीं की, सभी ने अपनी-अपनी चिंता की। अच्छा हुआ कि भोलेबाबा ने हमारे भीतर एक चेतना जगाई। इसके कारण 40 से ज्यादा पुरातात्विक मंदिर इस पूरे धाम के अंदर से मिले। अब इन मंदिरों की मुक्ति का रास्ता भी खुला है।

काशी विश्वनाथ महादेव मंदिर करोड़ों देशवासियों की आस्था का स्थल है। लोग यहां इसलिए आते हैं कि काशी विश्वनाथ के प्रति उनकी अपार श्रद्धा है। उनकी आस्था को अब बल मिलेगा। ये काशी विश्वनाथ धाम, अब काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर के रूप में जाना जायेगा। इससे काशी की पूरे विश्व में एक अलग पहचान बनेगी।

Read More:- Rahul के गढ़ में बोले Modi, हमारी सरकार में ही उड़ेगा Rafale

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com