गृह मंत्रालय की बैठक में फैसला- आतंक के खिलाफ जारी रहेगी जीरो टॉलरेंस नीति

0
10

नई दिल्ली: आतंक के खिलाफ मोदी सरकार काफी सख्त नजर आ रही है। सोमवार को हुई गृह मंत्रालय की बैठक में नए गृह मंत्री अमित शाह ने सुरक्षाबलों को साफ निर्देश दे दिए हैं कि वह आतंक के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति जारी रखें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उन पर किसी भी आलोचना का प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए। गृह मंत्रालय का कहना है कि नीति परिणाम देने वाली है।

मर गिराए 101 आतंकी

गौरतलब है कि सेना भी आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन आलआउट चला रही है। पिछले पांच महीने में सुरक्षाबलों ने 101 आतंकी मार गिराए है। हालांकि मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि इस सफलता के बावजूद घर के अंदर पनप रहे आतंकवाद को नियंत्रण में नहीं लाया जा सका है। एक अधिकारी के मुताबिक़ लगभग 50 युवा विभिन्न आतंकी संगठन में शामिल हुए हैं और यह चिंता का विषय है।

कट्टरपंथी विचारों को कह्तं करने पर होगा ध्यान

एक अधिकारी ने बताया कि अगले पांच सालों में कट्टरपंथी विचारधारा को ख़त्म करने पर ध्यान दिया जाएगा। हमें इसे सुरक्षा के पहलू से नहीं बल्कि सामाजिक पहलू के तौर पर देखना चाहिए। नए विचारों के बारे में सोचा जाना चाहिए जिससे कि युवा कट्टरपंथी विचारों से प्रभावित न हों।

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘अगले दो महीनों में पार्टी की भावना को आकार मिल जाएगा और अमित शाह इससे परिचित हैं। बैठक में उन्होंने इसके बारे में स्पष्ट कर दिया था।’ एक घंटे तक चली बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, खुफिया ब्यूरो के निदेशक राजीव जैन और गृह सचिव राजीव गौबा शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here