MP: कमलनाथ के करीबी माने जाने वाले मिर्ची बाबा आज ग्वालियर में फूल बाग पर पीसीसी चीफ कमलनाथ की सभा से पहले नाराज हो गए. अपनी नाराजगी जताते हुए जमीन पर बैठ गए. जानकारी के मुताबिक मंच पर जगह ना मिलने की वजह से वह नाराज हो गए थे. मिर्ची बाबा को इस तरह नाराज होते देख कांग्रेस नेता सुनील शर्मा मौके पर पहुंचे और उन्हें उठाकर मंच पर ले गए. मंच पर जाकर बाबा ने कमलनाथ से मुलाकात की और वापस उतरकर नीचे आ गए. सोशल मीडिया पर उनका जमीन पर बैठ जाने का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है.

वहीं अपनी सभा के दौरान कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए 18 सालों का हिसाब मांगा है. इस दौरान कमलनाथ ने कहा कि 15 महीने की सरकार में मैंने प्रदेश में सबसे ज्यादा गौशाला बनवाई और संबल योजना में सब को मदद देने की कोशिश की लेकिन शिवराज सरकार हर योजना में भ्रष्टाचार कर रही है. उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के रूप में एक बड़ा घोटाला किया जा रहा है. वो यह कहते दिखाई दिए कि 15 महीने की कांग्रेस सरकार एक बार फिर आएगी

Must Read- कभी ठाणे की सड़कों पर ऑटो चलाने वाले Eknath Shinde संभालेंगे CM पद, ऐसा रहा राजनीतिक सफर

बता दें कि ग्वालियर में नगरी निकाय चुनाव में कांग्रेस पार्टी की ओर से शोभा सिकरवार को महापौर प्रत्याशी बनाया गया है. इसी के चलते पूर्व सीएम कमलनाथ आम सभा को संबोधित करने पहुंचे थे. यहां मुख्यमंत्री शिवराज को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान ने केवल एक काम किया है घर-घर तक शराब पहुंचा दी है. इस दौरान कमलनाथ ने यह भी कहा कि नगर पालिका नगर परिषद और नगर पंचायतों में जो भ्रष्टाचार चल रहा है और शिवराज सरकार की बदौलत ही है.

पीसीसी चीफ कमलनाथ ने कहा कि बेरोजगार युवा अपराध का रास्ता अपना रहे हैं. किसान और व्यापारी परेशान है. शिवराज की सरकार में कोई खुश नहीं है. आगे उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कहता कि कांग्रेस को वोट दो मैं बस यह कहूंगा कि प्रदेश की तस्वीर देख कर अपना नेता चुनिए. इस आमसभा में पीसीसी चीफ कमलनाथ के साथ नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, विधायक प्रवीण पाठक, जिला अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा, पूर्व मंत्री लाखन सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील शर्मा और महापौर प्रत्याशी शोभा सिकरवार सहित 66 वार्ड के कांग्रेस पार्षद प्रत्याशी मौजूद थे.