अलीगढ़ मर्डर केस : जाहिद की पत्नी और भाई गिरफ्तार, हत्या में की थी मदद | Minor Girl Murder Case of Aligarh Police Arrested all Four Accused

0
21

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में हुई ढाई साल की मासूम की हत्या के मामले में पुलिस ने अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए तीसरे आरोपी का नाम मेहंदी है। बताया जा रहा है कि वह जाहिद का भाई है। वहीं पुलिस ने जाहिद की पत्नी को भी हिरासत में लिया है। जाहिद की पत्नी पर भी आरोपियों की मदद करने का आरोप है। खबरों की मानें तो जब बच्ची की लाश बरामद की गई थी तब मेहंदी मौके से फरार हो गया था और उसने कहा था कि जिसको जो करना है कर लो।

एसआईटी जांच में हुआ ये खुलासा-

इधर एसआईटी की जांच में भी बड़ा खुलासा हुआ है। एसआईटी जांच की माने तो मासूम के परिवार से बदला लेने के लिए जाहिद और असलम ने मिलकर बच्ची की हत्या कर दी थी। जिसके बाद मेहंदी और उसकी पत्नी ने दोनों की मदद की थी और जाहिद की पत्नी के दुपट्टे में ही बच्चे का शव को रखा गया था।

दोनों अरोपियों के खिलाफ हुआ ये खुलासा-

मोहम्मद जाहिद और मोहम्मद असलम को लेकर भी बड़ा खुलासा हुआ है बताया जा रहा है कि मोहम्मद जाहिद एक जुआरी है और उसके दोस्त उसे सट्टा किंग के नाम से बुलाते हैं। वहीं आरोपी असलम बच्ची की हत्या करने से पहले भी कई वारदातों को अंजाम दे चुका है।

असलम को पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है और उस पर रिश्तेदार की बच्ची के साथ यौन शोषण का आरोप है। असलम को 2014 में इस मामले में हिरासत में लिया गया था। वहीं दूसरा मामला दिल्ली के गोकुलपुरी का है जहां पर 2017 में उस पर छेड़छाड़ और अपहरण का केस दर्ज हुआ था।

पांच पुलिसकर्मी सस्पेंड-

इधर इस मामले में पांच पुलिसवालों को भी सस्पेंड कर दिया गया है जिसमें कुशलपाल सिंह (इंस्पेक्टर), सत्यवीर सिंह (एसआई), अरविंद कुमार (एसआई), शमीम अहमद (एसआई), राहुल यादव (कांस्टेबल) शामिल है।

गौरतलब है कि अलीगढ के टप्पर से मासूम 30 मई को अपने घर से लापता हो गई थी। जिसके बाद पुलिस ने बच्ची के शव को पास से ही कूड़े के ढेर से बरामद किया था। वहीं बच्ची के घरवालों ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि पुलिस शुरू से ही इस मामले में टाल मटोल करती रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here