Breaking News

पुरुषों डूब मरो, लावारिस सुपरवाइजर की मौत पर महिलाओं ने निकाली अर्थी और किया अंतिम संस्कार

Posted on: 10 Mar 2019 09:15 by Pawan Yadav
पुरुषों डूब मरो, लावारिस सुपरवाइजर की मौत पर महिलाओं ने निकाली अर्थी और किया अंतिम संस्कार

हमारे देश की महिलाएं अब कितनी अधिक जागरूक हो गई है, इसका एक बहुत बड़ा उदाहरण सामने आया है रतलाम में ग्राम सिखेड़ा में वहां के आंगनवाड़ी सुपरवाइजर चंद्रप्रभा जिनकी उम्र 71 वर्ष थी, उनकी जब मृत्यु हुई, तो उनके परिवार में अंतिम संस्कार करने वाला कोई भी नहीं था, लेकिन गांव की महिलाओं ने यह तय किया कि वे सब सुपरवाइजर की अर्थी को कंधा भी देंगी और अंतिम संस्कार भी करेंगे और ऐसा हुआ भी महिलाओं ने अंतिम संस्कार के लिए पूरी तैयारी कर ली। उन्होंने आरती सजाई और अर्थी को लेकर कंधा देकर निकली भी।

यह देखकर पूरा गांव हैरान रह गया और बाद में महिलाओं ने उसे मुखाग्नि दी। कुल मिलाकर गांव की महिलाओं के इस कदम ने यह तो साबित कर दिया कि महिलाएं जो कि कभी श्मशान घाट नहीं जाती, वह लावारिस सुपरवाइजर की अर्थी लेकर श्मशान घाट भी पहुंच गई। सचमुच इस गांव के पुरुषों को तो शर्म से डूब मरना चाहिए।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com