Breaking News

समाज सेवा से जुड़े मनीष, जरुरत मंदों को दे रहे रोजगार

Posted on: 30 May 2018 07:38 by hemlata lovanshi
समाज सेवा से जुड़े मनीष, जरुरत  मंदों को दे रहे रोजगार

इंदौर: अक्सर युवाओं का ग्रुप यहां-वहां मौज मस्ती करते हुए दिखता है। अपनी दुनिया में मस्त इन युवाओं को देखकर लोग कह ही देते हैं कोई काम नहीं है आवारा हैं ये तो। ऐसा नहीं है, यहीं अल्हड़ युवा अब अपने कामों से मिसाल कायम कर  औरों को भी राह दिखा रहे हैं।

आइए आपको घमासान डॉटकॉम मिलवा रहा है शहर के युवा मनीष शर्मा से। मनीष शर्मा आईपीएस एकेडमी से होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर समाज सेवा से जुड़े। पिछले दस सालों से इंदौर शहर के आसपास के गांवों में जाकर बच्चों को शिक्षा दे रहे हैं साथ ही कई अवेयरनेस प्रोग्राम भी चला रहे हैं। मनीष जी ने  बताया कि शुरुआत में प्रॉब्लम हुई लेकिन अब मेरे साथ कई युवा जुड़ चुके हैं। केक्स वैलि बेक़री एंड कैफ़े में जरुरत मंदों को जॉब देने के साथ उन्हें अन्य रोजगार कि जानकारी भी देता हूं ताकि खुद का रोजगार शुरू कर दूसरों  को भी रोजगार दें।manish 2

 खुद के लिए तो सभी करते हैं 
प्रेसिडेंट गोल एनजीओ, जॉइंट सेक्रेटरी रोटरी क्लब इंदौर मेघदूत के साथ ही केक्स वैलि बेक़री एंड कैफ़े के बिजनेस से जुड़े मनीष जी 10 सालों से समाज सेवा से जुड़े हैं। इन्होंने बताया कि मेरी बेच के सभी साथी दिल्ली में अच्छी जॉब कर रहे हैं। मुझे खुद को स्टेबल करने के साथ ही लोगों के लिए भी कुछ करना था। यही कुछ करने की इच्छा ने मुझे एनजीओ से जोड़ा। मुझे लगता है कि खुद के ​लिए तो सभी करते हैं दूसरों के लिए कुछ करना अलग बात होती है।manish 1

पब्लिक ट्रांसपोर्ट से पता चली असलियत
मैंने कभी पब्लिक ट्रांसपोर्ट यूज नहीं किया था। एक बार सोचा यूज करके देखता हूं। जैसे ही बस में बैठा मेरे साथ दो और लड़कें भी आ गए। बुरा तब  लगा जब  दोनों ही लड़कों ने सामने बैठी लड़कियों को देखकर गंदी लैंग्वेज में बातें शुरू कर दी। तभी सोच लिया कुछ न कुछ तो मुझे करना है खासकर महिलाओं के लिए।

​लोग करते हैं मदद
मैं गांवों में विजिट कर बच्चों को फ्री एजुकेशन देता हूं। शिक्षा से सही और गलत में फर्क कर सकते हैं। अवेयरनेस प्रोग्राम करता हूं। लोगों को पर्यावरण से भी जोड़ता हूं।  इन सब में खर्च भी आता है लेकिन सेवा कार्य में लोग मदद कर ही देते हैं। शहर के कुछ लोगों के साथ ही रोटरी क्लब भी हमेशा सहयोग करता है।

गर्ल्स को इंडिपेंडेंट बनाना
गोल एनजीओं द्वारा गर्ल्स को इंडिपेंडेंट बनाने के लिए समय-समय पर कई प्रोग्राम होते हैं। इसी कड़ी में बालिकाओं के लिए निशुल्क आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र में आयोजित किया जा रहा है। यह शिविर गोल एनजीओ, रोटरी क्बल मेघदूत और पुलिस डिपार्टमेंट के सहयोग द्वारा 1 से 5 जून तक आयोजित किया जाएगा।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com