मंत्री नहीं बनाने के सवाल पर मेनका गांधी बोलीं- अच्छा तो हम चलते हैं…

0
9

लोकसभा चुनाव में मिली प्रचंड जीत के साथ मोदी सरकार दोबारा सत्ता में लौटी है। नई सरकार में कई नए चेहरों को मंत्री बनाया गया, जबकि पिछली सरकार में बने कुछ मंत्रियों की अनदेखी की गई। इन्हीं में से एक नाम मेनका गांधी का है। सुल्तानपुर से भाजपा सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने इस बार खुद को मंत्री नहीं बनाए जाने पर कहा कि बड़े अंतर से जीतने और लंबे समय तक सांसद रहने वाले को प्रोटेम स्पीकर चुना जाता है और वह खुद भी उनमें से एक हैं।

जब पत्रकारों ने चार बार से सांसद व बेटे वरूण गांधी को मंत्री नहीं बनाने का सवाल किया तो वह बोलीं… अच्छा तो हम चलते हैं। गौरतलब है कि चुनाव जीतने के बाद मेनका गांधी सुल्तानपुर में जनता का आभार जताने गई थीं। पिछली सरकार में महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रही मेनका गांधी से जब पत्रकारों ने मंत्री नहीं बनाए जाने का सवाल किया तो उन्होंने कहा कि इसका जवाब सुल्तानपुर की जनता से लीजिए।

इस दौरान उन्होंने तंज भरे लहजे में कहा कि बड़े अंतर से चुनाव जीतने और लंबे वक्त तक सांसद रहने वाले को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाता है और उनमें से मैं भी एक हूं। वहीं पीलीभीत से सांसद और बेटे वरूण गांधी को मोदी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने के सवाल पर मेनका गांधी ने चुप्पी साध ली। कुछ कहन के बजाय उन्होंने कहा कि अच्छा तो हम चलते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here