मंदसौर गोलीकांड : जैन आयोग की रिपोर्ट किसके पास है, उजागर करें सरकार

0
10

भोपाल। मंदसौर गोलीकांड में मारे गए किसानों को लेकर शिवराज सिंह सरकार द्वारा गठित जैन आयोग का कार्यकाल समाप्त होने के बाद भी अब तक उसकी रिपोर्ट नहीं आई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने शिवराज सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए मांग की है कि ६ जून के पहले मंदसौर गोलीकांड की जैन आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक की जाए।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि विगत् छह जून, 2017 को मंदसौर गोलीकांड में हुई किसानों की मौत को लेकर गठित जैन आयोग का कार्यकाल चार बार बढ़ाये जाने के बाद विगत 11 मई को समाप्त हो गया। कार्यकाल समाप्ति के बीस दिन बाद भी आयोग ने जांच रिपोर्ट अभी तक सार्वजनिक नहीं की है, वह रिपोर्ट कहां और किसके पास है?

कमलनाथ ने कहा है कि आगामी छह जून को मंदसौर गोलीकांड को एक वर्ष होने के पूर्व शिवराज सरकार जस्टिस जैन आयोग की रिपोर्ट को जारी करे। क्योंकि कांग्रेस को इसके बाद इसमें लीपापोती की आशंका है। उन्होंने कहा कि गोलीकांड के दोषियों को शीघ्र सजा और पीडि़तों को शीघ्र न्याय मिले। उन्होंने दोषियों को सजा देने और किसानों पर दर्ज झूठे मुकदमे वापस लेने की मांग की है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि चना, मसूर, सरसों और गेहूं की खरीदी में गड़बड़झाला करने वालों पर सीधे एफआईआर करने के निर्देश देने वाले शिवराजसिंह यह भी बतायें कि वर्ष 2017 में हुए प्याज और दाल घोटाले के दोषियों और उनके संरक्षणकर्ताओं पर एफआईआर कब दर्ज की जाएगी।

कमलनाथ ने यह भी मांग की है कि किसान आंदोलन को देखते हुए शांति भंग के नाम पर शिवराज सरकार ने अन्नदाता किसानों को बांड भरने के जो हजारों नोटिस जारी किये हैं, वे सारे के सारे अविलंब सरकार वापस ले। क्योंकि प्रजातंत्र में सभी को अपनी बात कहने व आवाज उठाने का का हक प्राप्त है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here