Breaking News

मकर संक्रांति पर खास योग, इस मंत्र से खुश होंगे सूर्यदेव

Posted on: 12 Jan 2019 10:49 by Pawan Yadav
मकर संक्रांति पर खास योग, इस मंत्र से खुश होंगे सूर्यदेव

हिंदू धर्म के प्रमुख त्योहारों में शामिल मकर संक्रांति पर भगवान सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते हैं। हिंदू धर्म में भगवान सूर्य को अघ्र्य देकर पूजा-अर्चना की जाती है, क्योंकि सूर्य देव पृथ्वी पर सभी जीवित प्राणियों का पोषण करते हैं। इस बार मकर संक्रांति सर्वार्थ सिद्धि योग में मनाई जाएगी।
मकर संक्रांति पर सूर्य के मकर राशि में आने से मलमास खत्म हो जाएगा। इसके बाद मांगलिक कार्य फिर से शुरू हो जाएंगे। सूर्य जब मकर, कुंभ, मीन, मेष, वृष और मिथुन राशि में सूर्य रहता है, तब ये ग्रह उत्तरायण होता है। जब सूर्य शेष राशियों कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक और धनु राशि में रहता है, तब दक्षिणायन होता है।

इस मंत्र का करें जाप
सूर्य मंत्र ऊँ सूर्याय नमः का जाप 108 बार जाप करें। इससे भगवान सूर्य देव प्रसन्न होकर आशीर्वाद देंगे।

मकर संक्रांति के इस विधि से करें पूजा-अर्चना

  •  सूर्यादय से पहले स्नान करें, फिर सूर्यदेव को अघ्र्य दें।
    यदि हो सके तो तीर्थ या पवित्र नदी में स्नान कर पुण्य लाभ लें।
    स्नान के बाद तांबे के लोटे में लाल फूल और चावल डालकर सूर्य को जल चढ़ाएं।
    मंदिर में गुड़ और काले तिल का दान करें। ये शुभ होता है.
    भगवान को गुड़-तिल के लड्डू का भोग लगाएं और भक्तों को प्रसाद वितरित करें।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com