Makar Sankranti 2022 : हर साल की तरह इस साल भी मकर संक्रांति का पर्व 14 जनवरी को मनाया जाएगा। जैसा की आप सभी लोग जानते हैं यह पर्व हिंदू धर्म में विशेष महत्व रखता है। मान्यताओं के अनुसार मकर सक्रांति के दिन को नए फल और नए ऋतु के आगमन के लिए मनाया जाता है। इस दिन हजारों की संख्या में लोग गंगा और अन्य पवित्र नदियों में स्नान और दान करने के लिए जाते है।

मकर सक्रांति के दिन को दान पुण्य का दिन माना जाता है। इस दिन दान करने से काफी ज्यादा लाभ मिलता है। हालांकि ऐसे में किसी को दुख देकर कमाए गए धन से दान नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसे में दान अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए साफ मन से ही दान धर्म करने के लिए हमेशा कहा जाता है। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक इस वर्ष मकर संक्रांति पर खास तरह के शुभ संयोग बन रहे हैं। शुभ संयोग होने से मकर संक्रांति पर दान, स्नान और जप करने का महत्व बढ़ जाता है। आज हम आपको मकर सक्रांति पर किये जाने वाले दान के बारे में बताने जा रहे है साथ ही ये भी बताने जा रहे हैं कि किन किन चीज़ों का दान इस दिन करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं।

Also Read – Corona Virus : इटली से भारत आई फ्लाइट में 125 पैसेंजर कोरोना संक्रमित

ज्योतिष शास्त्र की माने तो इस बार मकर संक्रांति की शुरुआत रोहणी नक्षत्र के दौरान हो रही है। रोहणी नक्षत्र 14 जनवरी को शाम 08 बजकर 18 मिनट तक रहेगा। धर्म शास्त्रों के अनुसार रोहणी नक्षत्र होने पर दान, स्नान, पूजा पाठ और मंत्रों का जाप करने पर विशेष शुभ फल की प्राप्ति होती है। मकर संक्रांति पर रोहिणी नक्षत्र के साथ ब्रह्रायोग और आनंदादि शुभ योग का निर्माण हो रहा है।

जरूरतमंदों को दें दान –
बता दे, दान देने के पीछे कारण ये होता है कि ये पात्र को ही दिया जाए। इसका मतलबा है कि ये दान जरूरतमंदों को ही दिया जाना चाहिए। मान्यता है कि दान ऐसे व्‍यक्ति को दिया जाना चाहिए जो जरूरतमंद हो और इसका सदुपयोग करे। तभी आपको इसका फल प्राप्‍त होता है। इसके अलावा अच्‍छे मन से करना चाहिए और इसको देने के बाद इसका पश्चाताप भी नहीं करना चाहिए। नहीं तो दान देने वाले को इसका फल और पुण्य नहीं मिलता।

जरूरतमंदों को दें दान –
बता दे, दान देने के पीछे कारण ये होता है कि ये पात्र को ही दिया जाए। इसका मतलबा है कि ये दान जरूरतमंदों को ही दिया जाना चाहिए। मान्यता है कि दान ऐसे व्‍यक्ति को दिया जाना चाहिए जो जरूरतमंद हो और इसका सदुपयोग करे। तभी आपको इसका फल प्राप्‍त होता है। इसके अलावा अच्‍छे मन से करना चाहिए और इसको देने के बाद इसका पश्चाताप भी नहीं करना चाहिए। नहीं तो दान देने वाले को इसका फल और पुण्य नहीं मिलता।

इन चीजों का कर सकते हैं दान –
इस दिन आप दान में नमक, घी और अनाज भी दान कर सकते हैं। इसका भी बहुत महत्व है। मान्यताओं के अनुसार इस दिन आप नए वस्त्रों का दान भी कर सकते हैं। इसे अच्‍छा माना जाता है। इसके अलावा इस दिन तिल या गुड़ का दान करना शुभ माना जाता है।