कांग्रेस का महाराष्ट्र में बड़ा फेरबदल, तो दिल्ली में बढ़ी टेंशन

0
29

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस में कुछ ठीक नहीं चल रहा है। इसी बीच कांग्रेस ने महाराष्ट्र में बड़ा फेरबदल करते हुए अध्यक्ष बदल दिया है। कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने पार्टी अध्यक्ष पद से अशोक चव्हाण को हटाकर वरिष्ठ नेता बालासाहेब थरोट को अध्यक्ष बनाया हैं। साथ ही पांच अन्य नेताओं को कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी संगठन को मजबूत बनाना चाहता है। इसी के चलते सात नई समितियां भी गठित की गई है।

कांग्रेस कमेटी की ओर दी गई जानकारी में बताया कि बालासाहेब थरोट महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष होंगे, जबकि डॉ. नितिन राउत, बस्वराज एम पाटिल, विश्वजीत कदम, यशोमती चंद्रकांत ठाकुर ठाकुर और मुजफ्फर हुसैन को कार्यकारी अध्यक्ष के पद पर नियुक्त किया गया है।

इसके अलावा कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने विधानसभा चुनाव को देखते हुए सात नई कमेटियां गठित की है। इसमें को-ऑर्डिनेशन समिति को पूर्व गृह मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुशील कुमार शिंदे नेतृत्व करेंगे। प्रदेश चुनाव समिति और रणनीति को लेकर बनाई गई समिति को बालासाहेब थरोट लीड करेंगे, जबकि चुनाव प्रचार समिति का नेतृत्व नाना पटोले करेंगे। वहीं, केसी पदवी को कांग्रेस विधायक दल का नेता बनाया गया है।

दिल्ली: शीला दीक्षित और पीसी चाको में बढ़े मतभेद

दिल्ली कांग्रेस में लगातार कलह बढ़ती जा रही है। दिल्ली कांग्रेस प्रमुख शीला दीक्षित और राष्ट्रीय राजधानी मामलों के प्रभारी पीसी चाको में मतभेद उभरकर सामने आ गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीसी चाको ने शीला दीक्षित को पत्र लिखकर नाराजगी जाहिर की है। साथ ही उन्होंने शीला दीक्षित द्वारा 14 जिला कांग्रेस कमेटियों के पर्यवेक्षक और 280 ब्लॉक कांग्रेस कमेटियों के पर्यवेक्षकों की नियुक्ति पर सवाल उठा दिए हैं।

दिल्ली कांग्रेस प्रमुख शीला दीक्षित को लिखे पत्र में पीसी चाको ने कहा कि 14 जिला कांग्रेस कमेटियों के पर्यवेक्षक और 280 ब्लॉक कांग्रेस कमेटियों के पर्यवेक्षकों की नियुक्ति उनसे बिना विचार-विमर्श की गई है। साथ ही उन्होंने दिल्ली कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्षों की नियुक्ति पर भी सवाल उठाए हैं। वहीं, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमटी के तीन कार्यकारी अध्यक्षों हारुन यूसुफ, देवेंदर यादव और राजेश लिलोथिया ने राहुल गांधी, दिल्ली प्रभारी पीसी चाको और पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल को पत्र लिखकर कहा है कि यह एकतरफा निर्णय बिना उन्हें बताए लिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here