NDA की बैठक में उठा महाराष्ट्र मसला! पीएम बोले- दूर किए जाएं मतभेद

0
23

नई दिल्ली। रविवार को हुई एनडीए की बैठक में महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक उथल-पुथल का असर देखने को मिला। जहां पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी सहयोगी दलों से छोटे मतभेदों को दूर करने की बात कही है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ‘हम लोगों के लिए एक साथ काम करें। हमें एक विशाल जनादेश दिया गया है, आइए इसका सम्मान करें। समान विचारधारा के नहीं होने के बावजूद हम समान विचारधारा वाले दल हैं। हमें छोटे-मोटी दूरियों को नजरअंदाज करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बेहतर समन्वय के लिए एक समन्वय समिति बनाई जानी चाहिए।‘

साथ ही बैठके के दौरान पीएम मोदी ने सभी बीजेपी सांसदों से सदन में अच्छी उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए भी कहा है। उन्होंने सांसदों को सदन में मुद्दे उठाने और केंद्र सरकार की योजनाओं को नागरिकों तक पहुंचाने में सहायता करने के लिए भी कहा। वहीं बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने पत्रकारों से कहा कि 27 दलों की बैठक में पीएम मोदी ने कहा है कि सदन का सबसे अहम कार्य चर्चा और बहस करना है।

शिवसेना पर एलजेपी ने भी दी प्रतिक्रिया

वहीं लोक जन शक्ति पार्टी प्रमुख चिराग पासवान ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि बैठके के दौरान शिवसेना की अनुपस्थिति को महसूस किया गया था। क्योंकि यह सबसे पुराने एडीए संगठन के सदस्य थे। उन्होंने कहा, ‘सहयोगियों के बीच बेहतर समन्वय होना चाहिए और एक एनडीए संयोजक नियुक्त किया जाना चाहिए।‘

चिराग ने कहा, ‘यह चिंता की बात है कि तेलुगु देशम पार्टी ने पहले गठबंधन छोड़ दिया और फिर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने किया। हम सभी (सहयोगी) आगामी सत्र में एक साथ काम करेंगे और इस तरह की और बैठकें होनी चाहिए।‘

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here