Breaking News

विनय भाणावत ने उठाई मांग करेंसी नोट पर महाराणा प्रताप का चित्र अंकित करने की मांग

Posted on: 16 Jun 2018 08:15 by Ravindra Singh Rana
विनय भाणावत ने उठाई मांग करेंसी नोट पर महाराणा प्रताप का चित्र अंकित करने की मांग

उदयपुर: देश में कई बार महाराणा प्रताप पर सिक्कें और डाक टिकट जारी हुए है। भारत सरकार द्वारा यह सिक्कें और डाक टिकट एक सिमित मात्रा में देश के संग्रहकर्ताओं के लिए जारी हुए है ना कि आम आदमी के लिए। यह सिक्के और डाक टिकट वर्तमान में संग्रकर्ताओं के अलावा किसी के पास उपलब्ध नहीं। इन डाक टिकटों और सिक्कों का बाजार में प्रचलन भी नहीं है। उक्त बातों को देखते हुए मेवाड़ फिलेटली के संस्थापक-अध्यक्ष विनय भाणावत ने भारत सरकार से मांग की है कि वर्तमान समय में भारत की मुद्रा पर गांधी की जगह महाराणा प्रताप का चित्र अंकित किया जाए।

photo-2-15-min

प्रात: स्मरणीय महाराणा प्रताप पर देश में जहां दो डाक टिकट जारी हुए वहीं तीन सिक्के भी जारी किये गये। भारतीय डाक विभाग ने अपने स्मारक डाक टिकटों की श्रृंखला में पहला डाक टिकट 11 जून 1967 को जारी किया जिसमें महाराणा प्रताप अरावली की पहाडिय़ों में भाले के साथ खड़े है। मेवाड़ फिलेटली सोसायटी के संस्थापक-अध्यक्ष विनय भाणावत ने बताया कि कत्थई रंगवाले इस डाक टिकट का मूल्य उस समय 15 नए पैसे था। भाणावत ने बताया कि यह डाक टिकट दो लाख की संख्या में मुद्रित हुए थे।

इसी प्रकार दूसरा डाक टिकट 19 जनवरी 1998 को महाराणा प्रताप की 400वीं पुण्यतिथि पर जारी किया गया जिनका मूल्य दो रूपये था। ये 4 लाख की संख्या में प्रकाशित हुए थे। इस टिकट पर महाराणा प्रताप को कमर तक सैन्य वेशभूषा में दर्शाया गया था। इन टिकटों का प्रचार-प्रसार वर्तमान में नहीं है। यह टिकट वर्तमान में सिर्फ संग्रहकर्ताओं के पास ही है। डाक टिकट के साथ ही महाराणा प्रताप पर भारत सरकार ने स्मारक सिक्कों की श्रृंखला के अंतर्गत 2003 में तीन सिक्के भी जारी किये, इनमें एक, दस और सौ रूपये के सिक्कों का चांदी का सेट जारी किया जो भी संग्रहणीय है। लेकिन विडम्बना है कि सिक्के आम आदमी के हाथ तक बहुत कम ही पहुंचे। जिनके पास पहुंचे उनके पास यह संग्रह की वस्तु हो गए। विश्व विख्यात सिक्के, डाक टिकट एवं करेंसी नोटों के संग्रहकर्ता विनय भाणावत के संग्रह में दोनों डाक टिकट एवं तीनों सिक्के मौजूद है।

photo-3-15-min

महाराणा प्रताप की जयन्ती के अवसर पर विनय भाणावत ने भारत सरकार से मांग की है कि भारतीय मुद्रा पर महाराणा प्रताप का चित्र अंकित किया जाए। उन्होंने बताया कि किसी भी नोट पर महाराणा प्रताप का चित्र अंकित करने की मांग को लेकर मेवाड़ से 5700 पत्र पीएम मोदी को भेजे जाएंगे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com