Breaking News

मप्र: कांग्रेस और भाजपा में बड़ी बगावत

Posted on: 09 Nov 2018 11:27 by Surbhi Bhawsar
मप्र: कांग्रेस और भाजपा में बड़ी बगावत

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव टिकट वितरण के बाद सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस में बड़ी बगावत नजर आ रही है। चुनाव नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन यानी आज 9 नवंबर को दोनों ही दलों के बड़ी संख्या में नाराज नेता अपना नामांकन दाखिल करने जा रहे हैं। दोनों ही दलों ने इन नेताओं को मनाने की खूब कोशिश की है लेकिन अब तक यह मानने को तैयार नहीं हुए हैं ।

madhyapradesh

भाजपा से बगावत करने वालों में कुछ वर्तमान विधायक भी शामिल है जिन्हें पार्टी ने इस बार अपना उम्मीदवार नहीं बनाया हैं, वहीं कुछ बड़े नेता, पूर्व मंत्री, पूर्व विधायक भी निर्दलीय चुनाव मैदान में उतर रहे हैं । भाजपा से बगावत करने वालों में सबसे बड़ा नाम पूर्व केंद्रीय मंत्री सरताज सिंह का है जो पार्टी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए हैं और उन्हें कांग्रेस ने होशंगाबाद से अपना उम्मीदवार बनाया है। इसी तरह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साले संजय मसानी भी वारासिवनी से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। कुछ और नेता भी ऐसे हैं जिन्होंने टिकट ना मिलने पर भाजपा का साथ छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया है। कुछ नामांकन दाखिल कर चुके हैं और कुछ आज आखिरी तारीख पर पर्चा भरने जा रहे हैं।

कांग्रेस की बात करें तो सबसे बड़ी बगावत उज्जैन के पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू का भाजपा में शामिल होना है। गुड्डू के बेटे अजीत बोरासी को भाजपा ने उज्जैन जिले की घट्टिया सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। इसके अलावा भी कांग्रेस के कई नेता, पूर्व विधायक टिकट ना मिलने से खफा हैं और निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने जा रहे हैं। प्रदेश के सबसे बड़े शहर इंदौर, राजधानी भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, रीवा सतना से लेकर ग्रामीण और आदिवासी अंचल की सीटों पर भी असंतोष और बगावत के सुर हैं। आज नामांकन दाखिल होने के बाद भाजपा और कांग्रेस दोनों के सामने बड़ी चुनौती यह रहेगी की वह नाराज और बागी हुए अपने नेताओं को कैसे मनाती है। इस बार नाराजगी कुछ ज्यादा ही नजर आ रही है। नेताओं के पुतले फूंके जा रहे हैं, टिकट बेचने के आरोप भी बड़े नेताओं पर खुलकर चस्पा किए जा रहे हैं। नेताओं के समर्थक चक्काजाम भी कर रहे हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com