Madhyapradesh: मध्यप्रदेश में पड़ रही कडाक़े की ठण्ड के बीच राज्य सरकार ने जिला कलेक्टरों को स्कूलों को लेकर निर्देश दिए है. इस फरमान में राज्य सरकार ने कहा कि जिन जिलों में  पारा पांच डिग्री तक है. उन जिलों में कक्षा पांचवीं तक के बच्चों की छुट्टी कर दी जाएगी. बता दें कि मंगलवार को प्रदेश के सात जिलों में कोल्ड डे रहा, जिनमें से तीन जिलों में सीवियर कोल्ड डे रहा. प्रदेश के कई जिलों में आज बुधवार को भी कई जिले शीतलहर की चपेट में रहे.  बीते तीन-चार दिनों से प्रदेश में कड़ाके की सर्दी का जोरों पर है. सर्दी से बचने लोग घरों में कैद हैं, जरुरी काम होने पर ही घरों से बाहर निकल रहे हैं. प्रदेश में पड़ रही कड़ाके की सर्दी को देखते हुए प्रदेश के जिला शिक्षा अधिकारी, डीईओ ने राज्य सरकार से मार्गदर्शन मांगा था. जिला शिक्षा अधिकारियों के मार्गदर्शन को देखते हुए ही राज्य सरकार ने यह निर्देश दिए थे कि उन जिलों में स्कूलों में छुट्टी कर दी जाए, जहां पांच डिग्री से कम तापमान हो रहा है. 

 

पांचवीं तक के स्कूल बंद करने के आदेश

 

सभी कलेक्टरों को स्पष्ट तौर पर ऐसी जगहों पर प्री प्राइमरी से पांचवीं तक की कक्षाएं बंद करने को कहा गया है. राज्य सरकार के आदेश में कलेक्टर से तुरंत निर्णय लेने को कहा गया है हालांकि राज्य स्तर से आयोजित परीक्षाएं निर्धारित समय पर आयोजित की जाएंगी. 

 

इन जिलों में सर्दी का कहर 


बीते दो तीन दिनों से प्रदेश के कई जिले शीतलहर की चपेट में है. कई जिलों में मंगलवार को दिन का तापमान सामान्य से सढ़े चार से पांच डिग्री तक कम रहा. इनमें जबलपुर, सागर, ग्वालियर, दमोह, धार, गुना और रायसेन शामिल हैं. इधर भोपाल, सतना और छतरपुर जिले में दिन का तापमान सामान्य से छह डिग्री तक कम रहा.

Also Read – छात्रों के लिए बड़ी खुशख़बरी, इस दिनांक तक बंद रहेंगे स्कूल, आदेश हुआ जारी