Breaking News

इंदौर में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के बाद तनाव | Madhya Pradesh BJP Worker Killed in Indore

Posted on: 19 May 2019 22:01 by Mohit Devkar
इंदौर में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के बाद तनाव | Madhya Pradesh BJP Worker Killed in Indore

इंदौर। पालिया में भाजपा कार्यकर्ता नेमीचंद तंवर की हत्या का मामला सामने आया है. कांग्रेस नेता और मंत्री के खास अरुण शर्मा आरोपी है. तंवर की पत्नी पुष्पा और बेटा बसंत के साथ भी मारपीट की गई. जानकारी मुताबिक वह दोनों अरविंदो हास्पिटल में भर्ती हैं. पूर्व विधायक राजेश सोनकर ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को इस मामले की जानकारी दी है. जानकारी सूत्रों का कहना-अरुण ने दी थी धमकी वोटिंग खत्म होने के पहले तुझे खत्म कर देंगे.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का बयान

पराजय से बौखला कर गुंडागर्दी पर उतरी कांग्रेस. प्रशासन का कहना है कि अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए. हमारी लोकतंत्र में आस्था है. पर इस प्रकार के जघन्य हत्याकांड के बाद आरोपियों पर प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई नहीं करने पर ईट का जवाब पत्थर से देना
भाजपा भी जानती है.

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने इंदौर में सांवेर में भाजपा कार्यकर्ता नेमीचंद के जघन्य हत्या कांड और उनके पूरे परिवार पर कांग्रेस के कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट के खास कांग्रेस नेता अरुण शर्मा उनके पुत्र और साथियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग करते हुए कहा कि पालिया के मतदान केंद्र पर भारतीय जनता पार्टी का काम करने और मतदान के दौरान नेमीचंद तंवर जो (हेयर कटिंग सलून चलाते हैं- और भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता हैं) के पुत्रों को दोपहर में धमकी दी गई थी– “बहुत भाजपा का काम कर रहे हो मध्यप्रदेश में तो हमारी ही सरकार हैं.. तुम्हें देख लेंगे”

आज शाम कांग्रेस नेता अरुण शर्मा उनके दोनों पुत्र और साथी भाजपा कार्यकर्ता नेमीचंद के घर पहुंचे और उनकी जघन्य हत्या कर दी उनके छोटे बेटे बसंत और मृतक की पत्नी पुष्पा बाई को दी जान से मारने का प्रयास किया गया.

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता की हत्या और उसके परिवार पर राजनीतिक रंजिश के चलते किया गया हमला कांग्रेस के बड़े नेताओं के इशारे पर की गई कायराना हरकत है मध्यप्रदेश में खुलेआम गुंडागर्दी का सबूत है. श्री राकेश सिंह ने कहा कि हम मध्य प्रदेश को बंगाल नहीं बनने देंगे.

प्रशासन निष्पक्ष और कड़ी कार्रवाई करें। अन्यथा भारतीय जनता पार्टी को मैदान में उतरना पड़ेगा.

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com