Breaking News

संभवत भारत में पहली बार किन्नर सभ्यता संस्कृति को लेकर अंतरराष्ट्रीय सेमिनार संपन्न हुआ

Posted on: 16 Mar 2019 14:10 by Rakesh Saini
संभवत भारत में पहली बार किन्नर सभ्यता संस्कृति को लेकर अंतरराष्ट्रीय सेमिनार संपन्न हुआ

श्री अटल बिहारी वाजपेई शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय द्वारा 16 मार्च को एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आचार्य महामंडलेश्वर किन्नर अखाड़ा लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी, अध्यक्ष डॉ वंदना अग्निहोत्री प्राचार्य (जी एस आईटी एस महाविद्यालय), विशेष अतिथि सुश्री निर्मला गुराडिया साहित्यकार व पत्रकार एवं प्रोफेसर डेग पलोविक स्लोवाकिया, सेमिनार संयोजक डॉ कला जोशी थी।

Sheer civilization culture

कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन कर सरस्वती वंदना के साथ हुआ। इस दौरान निर्मला गुराडिया जी ने कहा कि लक्ष्मी से लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी आचार्य महामंडलेश्वर किन्नर अखाड़ा बनने का श्रेय मीडिया को जाता है।

Sheer civilization culture

त्रिपाठी जी ने किन्नरों का इतिहास, किन्नरों की आर्थिक स्थिति, किन्नरों का साहित्य, किन्नरों के प्रति सामाजिक दृष्टि आदि विषयों पर चर्चा भी की।

इसके बाद मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए त्रिपाठी ने कहा कि कमलनाथ के नेतृत्व में नई सरकार आई है। आशावादी हूं कि यह सरकार किन्नरों के लिए सामाजिक न्याय जरूर दिलाएगी। मध्य प्रदेश सरकार में सामाजिक न्याय में भी एक ट्रांसजेंडर को काम मिला है बदलाव प्रकृति का नियम है।

रवि धाकड़ की रिपोर्ट

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com