Breaking News

लटकाने और भटकाने की संस्कृति देश पीछे छोड़ चुका: मोदी

Posted on: 03 Feb 2019 11:23 by Ravindra Singh Rana
लटकाने और भटकाने की संस्कृति देश पीछे छोड़ चुका: मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (prime minister narendra modi) ने रविवार को कुशोक बकुला रिमपोची एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन का शिलान्यास किया। 18,985 वर्गमीटर में बनने वाला नया टर्मिनल मॉड्यूलर, ऊर्जा कुशल और आत्मनिर्भर टर्मिनल भवन निर्माण होगा। इसके बाद मोदी ने कंपकंपाती ठंड में लद्दाखी भाषा में अपने भाषण की शुरुआत करते हुए बोलें – आप जिन मुश्किल परिस्थितियों में रहते हैं, हर कठिनाई को चुनौती देते हैं, वो मेरे लिए बहुत बड़ी प्रेरणा होती है कि आप सभी के लिए और डटकर काम करना है, जो स्नेह आप मुझे देते हैं, वो ब्याज समेत विकास करके लौटाना है।

ये मौसम आप सभी के लिए मुश्किलें लेकर आता है। बिजली और पानी की समस्या होती है, बीमारी की स्थिति में परेशानी होती है। इन्हीं परेशानियों को दूर करने के लिए केंद्र सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है, इसलिए मैं खुद बार-बार लेह-लद्दाख और जम्मू-कश्मीर आता रहता हूं।हमारी सरकार के काम करने का तरीका तेजी से काम करना है। लटकाने और भटकाने की संस्कृति देश पीछे छोड़ चुका। अगले 5 साल में इस लटकाने और भटकाने की संस्कृति को देश निकाला देना है।

आज जिन परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है उनसे यहां बिजली मिलने के साथ लेह-लद्दाख की देश और दुनिया के दूसरे शहरों से कनेक्टिविटी सुधरेगी, पर्यटन बढ़ेगा, रोज़गार के अवसर बढ़ेंगे। यहां टूरिज्म के विकास के लिए एक और कदम सरकार ने उठाया है। आज यहां 5 नए ट्रेकिंग रूट को खोलने का निर्णय लिया है। इससे यहां आने वाले पयर्टक पूरा समय लेकर अपनी यात्रा का आनंद ले पाएंगे।

केंद्र सरकार देशभर में विकास की पंचधारा, यानि बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसान को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई, सुनिश्चित करने में जुटी हुई है। लेह-लद्दाख और कारगिल में भी इन सभी सुविधाओं को मजबूत करने का प्रयास चल रहा है। बजट में ST वेलफेयर के लिए लगभग 30% की बढ़ोतरी की गई है और दलितों के विकास के लिए लगभग 35% अधिक बजट का आवंटन इस बार किया गया है।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेह-लद्दाख के अनेक किसान परिवारों को भी होने वाला है। सरकार ने फैसला लिया है कि जिन किसानों के पास 5 एकड़ से कम ज़मीन है, उनके बैंक खाते में सीधे 6 हज़ार रुपए हर वर्ष केंद्र सरकार ट्रांसफर करेगी। लद्दाख ऑटोनॉमस हिल डेवलपमेंट काउंसिल एक्ट में बदलाव किया गया है और काउंसिल को खर्च से जुड़े मामलों में अब ज्यादा अधिकार दिए गए हैं। अब क्षेत्र के विकास के लिए आने वाले पैसे यहां की ऑटोनॉमस काउंसिल ही जारी करती है।

केंद्र सरकार, ‘सबका साथ- सबका विकास’ के मूल मंत्र पर काम कर रही है। देश का कोई भी व्यक्ति, कोई भी कोना विकास से अछूता ना रहे इसके लिए पिछले साढ़े चार साल से हम लगातार काम कर रहे हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com