कुमारस्वामी सरकार गिरते ही मायावती को आया गुस्सा, इकलौते विधायक को दी सजा

0
97

बेंगलुरू। कर्नाटक में फ्लोर टेस्ट को लेकर चार दिन से चल रहा नाटक कुमारस्वामी सरकार गिरते ही थम गया। इधर, फ्लोर टेस्ट के दौरान विधानसभा से गायब रहने वाले इकलौते बीएसपी विधायक को मायावती ने पार्टी से निकाल दिया है।

बीएसपी प्रमुख मायावती ने ट्वीट करके कहा कि कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार के समर्थन में वोट देने के पार्टी हाईकमान के निर्देश का उल्लंघन करके बीएसपी विधायक एन महेश विश्वास मत में अनुपस्थित रहे, जो अनुशासनहीनता है, जिसे पार्टी ने अति गंभीरता से लिया है और इसलिए महेश को तत्काल प्रभाव से पार्टी से निष्कासित कर दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 225 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा में विश्वास मत के लिए 20 विधायक सदन में उपस्थित नहीं हुए थे। विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने विश्वास मत दौरान मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी विश्वास मत हासिल नहीं कर सके। वोटिंग के दौरान पक्ष में 99, जबकि विपक्ष में 105 मत पड़े हैं।

कांग्रेस: विधायकों ने दिया धोखा

सरकार गिरने के बाद कांग्रेस की ओर से कहा गया कि हमारे विधायकों ने धोखा दिया। कांग्रेस नेता एच के पाटिल ने कहा कि कांग्रेस-जेडीएस विश्वासमत हासिल नहीं कर सकी। यह हार इसलिए हुई, क्योंकि हमारे विधायकों ने हमें धोखा दिया है। हम कई चीजों के प्रभाव में आ गए थे। कर्नाटक के लोग इस तरह की घोखेबाजी को सहन नहीं करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here