जाने, लड़कियों की वर्जनिटी को लेकर क्या सोचते है लड़के

भारतियों में आपने अक्सर एक बात नोटिस करी होगी कि वह सेक्स लाइफ पर खुलकर बात बहुत कतराते है। उनके मन में क्या चल रहा है वो खुल कर नहीं बता पाते है।

0
78
relationship

नई दिल्ली : भारतियों में आपने अक्सर एक बात नोटिस करी होगी कि वह सेक्स लाइफ पर खुलकर बात बहुत कतराते है। उनके मन में क्या चल रहा है वो खुल कर नहीं बता पाते है। हालांकि बदलते जीवन शैली और समय के साथ अब कुछ लोगों ने इस पर खुल कर बात करना शुरू कर दिया है। ऐसे लोग अब सेक्स लाइफ के बारे में बात करने में या अपने जीवन में घटी ऐसी कोई घटना बताने में अब काम कतराने लगे है।

लेकिन आपको बता दें कि अभी हाल ही में एक जानकारी के मुताबिक पता चला है कि बस 60 फीसदी लोग अपनी सेक्स लाइफ को लेकर संतुष्ट दिखाई देते हैं। बाकी यहीं सोचते रह जाते है हमारी पार्टनर वर्जिन है या नहीं या फिर उसके साथ रिलेशन में हमें संतुष्टि मिलेगी या नहीं। इन सब के चलते 40 फीसदी लोग इसी सोच में रहते है। आपको बता दें कि पार्टनर की वर्जिनिटी का विषय आज भी गंभीर बना हुआ है।

इनका कहना है कि रिलेशनशिप में आने के लिए पार्टनर की वर्जिनिटी काफी मायने रखती है। भारतीय सोच में कितने भी उचाई पर पहुँच जाए लेकिन वर्जिनटी के बारे में उनकी सोच हमेशा एक जैसी ही बानी हुई रहती है कि लड़किया वर्जिन होना चाहिए अगर वो वर्जिन नहीं है तो जरूर ये बेकार होगी या कुछ और। साथी ही आपको ये भी बता दें कि, भारत में 53 फीसदी लोग अपने पार्टनर की वर्जिनिटी को बहुत गंभीरता से लेते हैं। साथ ही ज्यादा तर लोग रिलेशन में आने से पहले लड़कियों की वर्जिनिटी पर ज्यादा गौर करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here