‘निपाह’ वायरस का कहर, 48 घंटे में ले सकता है जान | Kerala ‘Nipah’ Virus Havoc can take Life in 48 hours…

0
22
nipah virus

केरल: केरल में निपाह वायरस ने एक फिर कहर बरपाया है। राज्य में यह वायरस तेजी से फ़ैल रहा है। हर दिन इस वायरस की चपेट में लोगों के आने का सिलसिला जारी है। इसको देखते हुए केरल में पूरा स्वास्थ्य महकमा हाई अलर्ट पर है। बताया जा रहा है किबुध्वार को 23 साल के एक शख्स में इस निपाह वायरस के लक्षण दिखे, जिसके बाद उसका इलाज जारी है।

देखरेख में 314 लोग

केरल में 314 लोगों में निपाह वायरस के लक्षण पाने की आशंका के बाद उन्हें स्वास्थ्य विभाग ने अपनी देखरेख में रखा है। राज्य में स्थिति खराब होने से पहले ही केंद्र सरकार ने भी 6 सदस्यों की एक टीम को केरल भेज दिया है जो इस वायरस से फैलने वाली बीमारी पर पैनी नजर बनाए हुए है। इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन सिंह ने भी लोगों ने संयम बनाए रखने की अपील की है।

ये है लक्षण

निपाह वायरस की चपेट में आने का सबसे प्रमिउख लक्षण सांस लेने में दिक्कत होना है। इसके साथ ही सिर में तेज दर्द और तेज बुखार होने लगता है। यह वायरस इतना खतरनाक है कि किसी के शारीर में चला जाए तो 48 घंटे के अंदर इंसान कोमा में चला जाता है। ऐसे लक्षण पाए जाने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

कोई इलाज नहीं

निपाह वायरस से निपटने के लिए अभी तक अधिकारिक तौर पर कोई टिका या दवाई नहीं आई है। हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन और स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने इससे बचने के लिए साफ़-सुथरा रहने और खाने की चीजों को धोकर खाने के निर्देश दिए है।

मलेशिया में पाया गया

बता दे कि 1998 में पहली बार मलेशिया के कांपुंग सुंगई निपाह में इसके मामले सामने आए थे। पहले इसका असर सुअरों में देखा गया था। फिर 2004 में यह वायरस बांग्लादेश में फैला। भारत में यह केरल में पहली बार सामने आया है। इस वायरस से प्रभावित लोगों को सांस लेने की दिक्कत होती है फिर दिमाग में जलन महसूस होती है। वक्त पर इलाज नहीं मिलने पर मौत हो जाती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here