जब गाना गाते-गाते नम हुई कैलाश विजयवर्गीय की आंखें

0
13
kailash vijayvargiya

इंदौर: एक तरह जहां पूरी दुनिया योग दिवस मना रही थी, वहीं दूसरी ओर म्यूजिक के दीवाने वर्ल्ड म्यूजिक डे मना रहे थे। इस मौके पर जगह-जगह कार्यक्रम आयोजित किए गए थे। इस दौरान इंदौर में भी कृष्णापुरा छत्री पर कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में कलाकारों का हौंसला बढाने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी पहुंचे थे।

इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने भी गाना गाया और उनकी आँखें नाम हो गई। उन्होंने उस कार्यक्रम में ‘बाबुल की दुआएं लेती जा’ गाना गाया तो माहौल ग़मगीन हो गया। गाना गाते-गाते कैलाश की आंखें भी नाम हो गई। बच्चें फ़िल्मी गीतों की प्रस्तूती दे रहे थे।

कैलाश विजयवर्गीय के कार्यक्रम में पहुंचने से कुछ देर पहले ही इंदौर से नवनिर्वाचित सांसद शंकर लालवानी वहां पहुंचे थे। लालवानी ने कहा कि पूरे शहर के संगीत कलाकार मिलकर विश्व संगीत दिवस इतने शानदार तरीके से मनाते हैं, यह कहीं और नहीं होता है।

इस दौरान उनके बेटे और विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 4 से विधायक आकाश विजयवर्गीय वहांपहुंचे तो पिता-पुत्र दोनों ने साथ मिलकर ‘मुस्कुराहटों पे हो निसार’, ‘चिट्ठी ना कोई संदेश’, जैसे गीतों की प्रस्तुति दी। विजयवर्गीय ने जब वहां मौजूद पार्षद चंदू शिंदे को गाना गाने के लिए बुलाया तो उन्होंने ‘झलक झलक बाजे पायलिया’ गाना गाया। रात 1 बजे तक विजयवर्गीय कार्यक्रम में मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here