झारखण्ड: NDA में पड़ी दरार, एलजेपी अपने दम पर लड़ेगी चुनाव

बताया जा रहा है कि दोनों पार्टियों के बीच जरमुंडी सीट को लेकर पेंच फंस गया है। एलजेपी इस सीट से प्रदेश अध्यक्ष वीरेन्द्र प्रधान को चुनाव लड़वाना चाहती है, लेकिन बीजेपी ने यहां से देवेन्द्र कुमार को प्रत्याशी बनाया है।

0
61
LJP BJP

रांची: झारखण्ड में होने वाले विधानसभा चुनाव ने पहले एनडीए में दरार पड़ गई है। राज्य में बीजेपी-एलजेपी गठबंधन टूट गया है। एलजेपी झारखण्ड में अपने दम पर 50 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

बताया जा रहा है कि दोनों पार्टियों के बीच जरमुंडी सीट को लेकर पेंच फंस गया है। एलजेपी इस सीट से प्रदेश अध्यक्ष वीरेन्द्र प्रधान को चुनाव लड़वाना चाहती है, लेकिन बीजेपी ने यहां से देवेन्द्र कुमार को प्रत्याशी बनाया है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे थे कि एलजेपी बीजेपी से गठबंधन तोड़कर अकेले चुनाव लड़ सकती है।

आसजू ने भी नहीं बन रही बात

एलजेपी के अलावा आसजू से भी बीजेपी की बात बनती नहीं दिखाई दे रही है, फिलहाल दोनों ही पार्टियों के बीच बैठक का दौर जारी है। जानकारी के अनुसार बीजेपी ने आसजू को 9-10 सीटें देने पर सहमति जताई है, लेकिन आसजू ने इसके लिए इनकार कर दिया है और 19 सीटें चाह रही है, साथ ही 19 सीटों की सूची बीजेपी को सौंप दी है। जिसमें से लोहरदगा, चक्रधरपुर, चंदनकियारी, हुसैनाबाद जैसी सीटों पर पेंच फंसा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here