संसद में गलत कविता पढ़े जाने पर नाराज हुए जावेद अख्तर, बोले- प्लीज थोड़ी दया करो

0
65

आजकल बॉलीवुड के शायर, फिल्मों  के गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर बहुत ही नाराज है. उनके नाराज होने के पीछे की वजह भी बहुत अजीब है. देश के बहुत से लोगों का लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर 12 घंटे तक चली लंबी बहस को लेकर भले ही बहुत मनोरंजन हुआ हो, लेकिन जावेद अख्तर का मानना है कि यह सत्र कविता का अपमान था.

Via

जावेद अख्तर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर मंगलवार को लिखा कि, “मैं हाथ जोड़ते हुए और बहुत ही विनम्रता के साथ लोकसभा में सभी राजनीति पार्टियों के सभी सांसदों से निवेदन करता हूं कि वे सभी कम से कम कविता पर तो रहम करें. बिना किसी अपवाद के, इस 12 घंटे के सत्र के दौरान पढ़े गए हर शेर में गलत शब्द कहे गए है साथ ही उच्चारण भी गलत था.”

Via

आपको बता दे कि 12 घंटे तक लोकसभा में चली बहस के दौरान देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कई बड़े नेताओं ने कविताओं की कुछ पंक्तियों का उपयोग किया था. इसके साथ ही भारतीय जनता पार्टी के नारे ‘अच्छे दिन’ का मजाक उड़ाने के लिए आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान ने भी एक कविता पढ़ी थी.

Via

सरकार और विपक्षी दलों को मोदी सरकार के खिलाफ 20 जुलाई को लोकसभा में चल रही अविश्वास प्रस्ताव की बहस में एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करते हुए देखा गया था. बता दे कि बहस के दौरान ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी सरकार पर जोरदार हमला करने के बाद पीएम मोदी को गले से लगाया था. जिसकी चर्चा आजकल सोशल मीडिया पर जोर शोर से चल रही है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here