Breaking News

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन, महबूबा बोली- किसी का समर्थन नहीं चाहिए

Posted on: 19 Jun 2018 12:40 by Surbhi Bhawsar
जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन, महबूबा बोली- किसी का समर्थन नहीं चाहिए

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की महबूबा सरकार से बीजेपी ने अपना समर्थन वापस ले लिया है। समर्थन वापस लेने के साथ ही राज्य में बीजेपी-पीडीपी का गठबंधन टूट गया और महबूबा सरकार गिर गई है। सरकार गिरं के बाद महबूबा मुफ़्ती ने प्रेस कांफ्रेंस की है। महबूबा ने कहा कि हमने 11 हजार नौजवानों के खिलाफ केस वापस लिए है।महबूबा ने कहा कि हमारा मकसद पाकिस्तान के साथ अच्छे रिश्ते बनाना था। जम्मू-कश्मीर में डर की नीति नहीं चलेगी। उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियां अलग-अलग विचारधारा को मानती हैं, लेकिन फिर भी बड़े विजन को साथ लेकर BJP के साथ गठबंधन किया गया था।अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए महबूबा ने कहा कि, ‘370 को लेकर लोग डरे हुए थे उसको लेकर हम डटे रहे। यही नहीं, महबूबा की मानें तो उनकी सफल नीति की वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान भी गए।गौरतलब है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जम्मू कश्मीर मसले को लेकर एक अहम बैठक बुलाई थी, जिसके बाद शाह ने पीडीपी से गठबंधन तोड़ने का ऐलान किया है। सरकार गिरने के बाद बीजेपी के महासचिव ने भी प्रेस कांफ्रेंस कर कहा था कि पिछले कुछ दिनों से कश्मीर में स्थिति काफी बिगड़ी है, जिसके कारण हमें ये फैसला लेना पड़ रहा है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com