Breaking News

फिर बदला उषा ठाकुर का क्षेत्र, मिल ही गया मधु वर्मा को टिकट

Posted on: 08 Nov 2018 14:59 by Surbhi Bhawsar
फिर बदला उषा ठाकुर का क्षेत्र, मिल ही गया मधु वर्मा को टिकट

भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष उषा ठाकुर का विधानसभा क्षेत्र एक बार फिर बदल दिया गया है। 2013 में इंदौर के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक तीन से कांग्रेस विधायक अश्विन जोशी को हराकर विधानसभा में पहुंची सुश्री ठाकुर को इस बार पार्टी ने महू भेज दिया है। विधानसभा क्षेत्र 1 के संगम नगर में रहने वाली उषा ठाकुर को पार्टी ने पहला चुनाव 2003 में विधानसभा क्षेत्र 1 से ही लड़ाया था, उन्होंने तत्कालीन विधायक रामलाल यादव को बड़े अंतर से हराया था। 2008 में उनका टिकट काट दिया गया था, उनकी जगह सुदर्शन गुप्ता को टिकट दिया गया था। 2013 में फिर उन्हें विधानसभा का टिकट मिला लेकिन इस बार क्षेत्र इंदौर 3 था, यहां भी उन्होंने जीत दर्ज की और 2018 के विधानसभा चुनाव में उनका क्षेत्र फिर बदल दिया गया है। इस बार वह महू से भाजपा उम्मीदवार बनाई गई है।

आखिर मिल गया मधु वर्मा को टिकट-

Madhu-Verma
बरसो से विधानसभा टिकट की दौड़ में शामिल रहने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता और इंदौर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष मधु वर्मा इस बार टिकट लाने में सफल रहे। उन्हें विधानसभा क्षेत्र राऊ से भाजपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है। यहां उनका मुकाबला कांग्रेस के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी से होगा। पटवारी ने यहां 2013 में भाजयुमो के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष और विधायक जीतू जिराती को हराकर यह सीट भाजपा से छीनी थी।

ये ले आए फिर टिकट-

malini-gour
दो बार के विधायक सुदर्शन गुप्ता इस बार फिर विधानसभा क्षेत्र 1 से टिकट ले आए है, वही क्षेत्र 4 से महापौर मालिनी गौड़, क्षेत्र 5 से पूर्व स्वास्थ्य राज्यमंत्री महेंद्र हार्डिया, देपालपुर से मनोज पटेल और सांवेर से राजेश सोनकर फिर टिकट लाने में सफल हुए है।

ऐसे समझे इन टिकटों का समीकरण-
सांसद सुमित्रा महाजन और नरेंद्र सिंह तोमर के समर्थक माने जाने वाले सुदर्शन गुप्ता और राजेश सोनकर को टिकट मिला है, वही मुख्यमंत्री समर्थक मालिनी गौड़, मनोज पटेल और महेंद्र हार्डिया टिकट पाने में सफल रहे हैं। कैलाश विजयवर्गीय समर्थक रमेश मेंदोला और आकाश विजयवर्गीय का टिकट हुआ है। उषा ठाकुर को भी उनके गुट में ही गिना जाता है हालांकि उषा के टिकट के लिए एक बड़े राष्ट्रीय नेता और संघ द्वारा पैरवी किए जाने की बात सामने आई है। मधु वर्मा को भाजपा के पूर्व प्रदेश संगठन महामंत्री और मध्यप्रदेश गृहनिर्माण मंडल के अध्यक्ष कृष्णमुरारी मोघे का समर्थक माना जाता है। कुल मिलाकर इंदौर के टिकटों में मुख्यमंत्री, भाजपा संगठन, ताई-भाई सबकी चली है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com