Indore : इंडेक्स हॅास्पिटल के डॅाक्टरों की टीम को मिली बड़ी सफलता, महिला के पेट से निकाली हेयरपिन

किसी भी व्यक्ति के लिए आमतौर पर पेट दर्द होना एक सामान्य सा लक्षण होता है। कई बार यह मरीज की जान के लिए भी मुसीबत बन सकता है।

इंदौर(Indore) :  किसी भी व्यक्ति के लिए आमतौर पर पेट दर्द होना एक सामान्य सा लक्षण होता है। कई बार यह मरीज की जान के लिए भी मुसीबत बन सकता है। इससे आम दिनचर्या में भी कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है इंडेक्स हॅास्पिटल में 46 वर्षीय महिला रजिया बी को डॅाक्टरों के बेहतर मार्गदर्शन के कारण पेट दर्द के परेशानी से निजात मिल सकी। मेडिसिन विभाग की डॅा.रविजा प्रसाद ने बताया कि 20 जुलाई को रजिया बी उनके पास आई और पेट दर्द के साथ भूख न लगने की जानकारी दी। जब एंडोस्कोपी के जरिए आयुष्मान योजना में महिला का इलाज शुरू किया गया है।

Read More : सोनाक्षी सिन्हा की हॉट तस्वीरों पर दिल हार बैठे फैंस, बिकिनी टॉप पहन मचाया तहलका

उनके पेट में एक हेयरपिन दिखाई दी। इसी कारण रजिया बी को खाना खाने में दिक्कत और पेट दर्द की समस्या हो रही थी। डॅाक्टरों की टीम ने पेट की दूरबीन से जांच के बाद हेयरपिन को निकालने के लिए इलाज की शुरूआत की। इसमें डॅाक्टरों की टीम को सफलता मिली। रजिया बी एक बार फिर से सामान्य दिनचर्या के साथ ही उन्हें पेट दर्द की परेशानी से आराम मिल सका है। एंडोस्कोपी के बाद डॅाक्टर द्वारा महिला का दवाईयों से सतत इलाज कर रहे है। इससे हेयरपिन के कारण पेट में हुए घावों को ठीक करने में मदद मिल सकेगी।

Read More : मध्यप्रदेश सहित देश के छह राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, जानिए आपके शहर का हाल

कई अस्पतालों ने बताया सामान्य पेट दर्द

डॅा.प्रसाद ने बताया कि महिला के परिवार ने मरीज के बारे में जानकारी दी उन्हें मानसिक परेशानी है। इसके कारण दवाईयों के साथ उन्होंने से गलती से हेयरपिन खा ली थी। एक महीने बाद इस बीमारी का इंडेक्स हॅास्पिटल आने पर पता चल सका है। इंदौर के कई बड़े हॅास्पिटल भी इस बीमारी को सामान्य पेट दर्द ही बता रहे थे। इंडेक्स हॅास्पिटल के डॅाक्टरों और आयुष्मान योजना के कारण बेहतर इलाज समय पर मिल सका है। इसी योजना में मानसिक रोग का भी इलाज शुरू किया जा रहा है। इंडेक्स समूह के वाइस चेयरमैन मयंकराज सिंह भदौरिया,डायरेक्टर आर एस राणावत, एडिशनल डायरेक्टर आर सी यादव ,सुप्रिडेंटेंड लेफ्टिनेंट कर्नल डॉ.अजयसिंह ठाकुरऔर मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डॅा. सुधीर मौर्या ने टीम की सराहना की।

Source : PR