Breaking News

इंदौर: निगम कमिश्नर बोले- आकाश विजयवर्गीय ने गलत किया, जारी रहेगी मकान गिराने की मुहीम

Posted on: 27 Jun 2019 16:31 by Surbhi Bhawsar
इंदौर: निगम कमिश्नर बोले- आकाश विजयवर्गीय ने गलत किया, जारी रहेगी मकान गिराने की मुहीम

इंदौर: नगर निगम के अधिकारियों को बैट से मारने वाले विधायक आकाश विजयवर्गीय को 14 दिन की न्यायायिक हिरासत में भेजा दिया गया है। आकाश विजयवर्गीय द्वारा निगम अधिकारी को पीटने की खबर सामने आने के बाद इंदौर से लेकर दिल्ली तक हलचल मच गई। इस घटना ने जहां एक ओर भाजपा के राष्ट्रीय महसचिव कैलाश विजयवर्गीय की मुश्किलें बढ़ा दी है वहीं कांग्रेस को हमला करने का भी मौका दे दिया है।

कल तोड़ा जाएगा विवादित मकान

इस घटना पर नगर निगम कमिश्नर ने कहा कि जानमाल की हिफाजत करना मेरी पहली जिम्मेदारी है।आकाश विजयवर्गीय ने निगम कर्मचारियों के साथ जो किया गलत किया। इस घटना से निगम कर्मचारी आक्रोशित है। नगर निगम की अतिखतरनाक मकानों को गिराने की मुहिम जारी है। विवादित जर्जर मकान कल तोड़ा जाएगा।

शिवराज सरकार ने दिया था ढहाने का आदेश

इंदौर के जिस जर्जर मकान को तोड़ने को लेकर विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम अधिकारी को बैट से पीटा उसे ढहाने का आदेश शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में ही जारी किया गया था। पिछले साल नगर निगम ने ऐसे मकानों को लेकर नोटिस जारी किया था, जो काफी पुराने हैं और तेज बारिश के दौरान इस तरह के मकान गिर भी सकते थे. अब जो नोटिस का कागज सामने आया है, उसमें साफ दिख रहा है कि ये नोटिस 3 अप्रैल, 2018 को जारी किया गया था।

निगम अधिकारी बर्खास्त

निगम धिकारी से आकाश विजयवर्गीय द्वारा की गई मारपीट के मामले में निगम ने अपनी ही 21 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है। बर्खास्त किए गए कर्मचारियों पर आरोप है कि उन्होंने निगम अधिकारी का समर्थन नहीं किया, जब उन्हें बल्ले से पीटा जा रहा था। इसके अलावा कुछ कर्मचारियों को आकाश विजयवर्गीय के समर्थकों के साथ देखा गया।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com