अयोध्या फैसले से पहले इंदौर पुलिस हुई चौकन्नी, सोशल मीडिया पर भी रहेगी नजर

0
28

इंदौर। शहर में अपराध एवं अपराधियों पर नियत्रंण एवं आगामी संभावित अयोध्या फैसेल को दृष्टिगत रखते हुए, कानून व्यवस्था आदि को लेकर 5 नवंबर को पुलिस कंट्रोल रूम इंदौर में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इंदौर रूचि वर्धन मिश्र द्वारा इंदौर पुलिस के अधिकारियों की बैठक ली गई। उक्त बैठक में पुलिस अधीक्षक (पूर्व) इंदौर, मो.यूसुफ कुरैशी, पुलिस अधीक्षक (पश्चिम) इंदौर अवधेश गोस्वामी, पुलिस अधीक्षक (मुखयालय) सूरज कुमार वर्मा सहित समस्त अति. पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक, एसडीओपी व सभी थाना प्रभारी उपस्थित रहे। बैठक में मुखय रूप से आगामी अयोध्या प्रकरण के फैसले को दृष्टिगत रखते हुए, शहर में पुलिस एवं कानून व्यवस्था के मद्देनजर महत्वपूर्ण बिदुंओं पर चर्चा की गयी एवं निम्न दिशा निर्देश दिए गए।

▪ किसी भी प्रकार की आकस्मिक परिस्थिति होने पर शहर में कानून व्यवस्था एवं शांति कायम रहे, इसके लिए माकूल सुरक्षा व पुलिस व्यवस्था के साथ जनता से आपसी समन्वय के साथ, अशांति फैलाने वाले शरारती तत्वों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएं।
▪ अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर, उनके विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की जाएं।
▪ आदतन अपराधियों के विरूद्ध जिला बदर और रासुका की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएं।
▪ संवेदनशील स्थानों एवं धार्मिक स्थलों पर विशेष ध्यान देकर, वहां फिक्स पिकेट एवं पेट्रोलिंग के लिए पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा बल लगाया जाएं।
▪ आमजन में सुरक्षा एवं शांति का माहौल कायम रखने के लिए, क्षेत्र में लगातार पुलिस बल द्वारा फ्लैग मार्च एवं पैदल भ्रमण किया जाएं।
▪ आमजन से आपसी समन्वय एवं सामंजस्य के लिए लगातार क्षेत्र में शांति समिति की बैठक एवं जनता से जनसंवाद स्थापित उन्हें किसी बहकावे या अफवाहों पर ध्यान न देकर, शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रेरित किया जाएं।
▪ संभावित कानून व्यवस्था की स्थिति के लिए पर्याप्त बल एवं अतिरिक्त बल के लिए कार्ययोजना की तैयारी रखी जाएं।
▪ सोशल मीडिया- फेसबुक-व्हाट्सअप आदि पर कड़ी निगरानी रखी जाएं, किसी भी प्रकार के आपत्तिजनक पोस्ट, वीडियो, मैसेज करने वाले व्यक्ति एवं उन ग्रुपों पर कड़ी कार्रवाई की जाएं।
▪ अपराधों पर नियत्रंण व हर परिस्थिति की जानकारी के लिए सभी अधिकारी फील्ड में अपने क्षेत्रों में हर गतिविधियों पर पैनी नजर रख उस पर आवश्यक कार्रवाई करें।
▪ क्षेत्र में सघन वाहन चैकिंग व पेट्रोलिंग कर, असामाजिक तत्वों व अपराधियों पर प्रभावी कार्रवाई की जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here