Breaking News

10 जिलों के घर-घर पहुंचाई बिजली, सौभाग्य योजना में इंदौर अग्रणी

Posted on: 23 Jun 2018 10:21 by Praveen Rathore
10 जिलों के घर-घर पहुंचाई बिजली, सौभाग्य योजना में इंदौर अग्रणी

इंदौर। मप्र पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी इंदौर ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य का प्रदेश ही नहीं अन्य राज्यों में भी श्रेष्ठ क्रियान्वयन किया हैं। मात्र आठ माह में इंदौर क्षेत्र के दस जिले सौभाग्य यानि प्रत्येक परिवार व प्रत्येक घर में स्वयं का बिजली कनेक्शन होने वाले घोषित हो चुके हैं। 10 जुलाई तक इंदौर कंपनी क्षेत्र के सभी 15 जिले सौभाग्य घोषित हो जाएंगे।

मप्र पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री आकाश त्रिपाठी ने बताया कि अक्टूबर से योजना का काम प्रारंभ किया गया। अब तक कंपनी कार्य क्षेत्र के इंदौर, देवास, शाजापुर, आगर, मंदसौर, नीमच, रतलाम, उज्जैन, खंडवा, धार जिले सौभाग्य घोषित हो चुके हैं। बुरहानपुर व झाबुआ इसी जून अंत तक सौभाग्य बन जाएंगे। प्रबंध निदेशक श्री त्रिपाठी नेबताया कि शेष जिले आलीराजपुर, बड़वानी, खरगोन 10 जुलाई तक सौभाग्य घोषित होंगे। अब तक सभी जिलों में करीब चार लाख कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। एक बिजली कनेक्शन से चार से पांच लाभान्वितों का आंकलन हो तो करीब 20 लाख अतिरिक्त लोगों के उपयोगार्थ बिजली पहुंचाई जा चुकी हैं। यह आंकड़ा मप्र की तीनों कंपनी में सबसे ज्यादा होने के साथ ही अलावा देशभर में सौभाग्य के श्रेष्ठ संचालन करने वाले बोर्ड में शामिल हैं। सौभाग्य के लिए करीब 80 हजार पोल, 8 हजार किमी नई लाइनें डाली गई हैं।

कहां कितने सौभाग्य कनेक्शन

सौभाग्य में उज्जैन संभाग जहां 1.40 लाख कनेक्शनों के साथ 100 फीसद उपलब्धि वाला घोषित हो गया। वहीं इंदौर संभाग में आदिवासी बहुल व दुर्गम क्षेत्र ज्यादा होने के साथ ही कुल 2.80 लाख पात्रों को कनेक्शन दिए जाना हैं। इसमें से 2.60 लाख के करीब  कनेक्शन दिए जा चुके हैं। कंपनी क्षेत्र में सबसे ज्यादा खरगोन में 55 हजार सौभाग्य कनेक्शन दिए जा रहे हैं, जबकि सबसे कम बुरहानपुर में 9500 कनेक्शन दिए जा रहे हैं। इंदौर जिले में दस हजार से ज्यादा कनेक्शन जनवरी में ही दिए गए। इंदौर जिला मप्र का पहला सौभाग्य जिला बनकर महामहिम राज्यपाल से अवार्ड भी ले चुका हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com