Breaking News

इंदौर में अब जाम से मिलेगी मुक्ति, छह ओवरब्रिज मंजूर

Posted on: 17 Jun 2019 13:17 by Pawan Yadav
इंदौर में अब जाम से मिलेगी मुक्ति, छह ओवरब्रिज मंजूर

इंदौर। इंदौर प्रेस क्लब में लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने प्रेसवार्ता कर शहर के यातायात को लेकर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि इंदौर के यातायात को लेकर कई लोगों ने शिकायत की, जिस पर प्रशासनिक अफसरों के साथ बैठक समस्या का समाधान निकालने की कोशिश की।

उन्होंने कहा कि यातायात को प्रदेश और केंद्र सरकार के संबंधित मंत्रालय के साथ बैठक का यातयात समस्या अवगत कराया, जिसके कुछ प्रस्ताव सौंपे गए थे, जिन्हें मंजूरी मिल गई है। हालांकि कुछ प्रोजेक्ट को लेकर कुछ समस्याएं आ रही थी, शहर में मेट्रो के ब्रिज को लेकर कुछ दिक्कतें आ रही है, जिस पर चर्चाएं चल रही है।

एलिवेटेड ब्रिज और मेट्रो ब्रिज की उंचाई को लेकर चर्चा की जा रही है। साथ ही रेलवे ब्रिज, सड़क निर्माण सहित अन्य प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है। इसमें इंदौर के 6 ओवरब्रिज को भी मंजूरी मिली हैे। उन्होने बताया कि एलआईजी चैराहे से नवलखा चौराहे तक 350 करोड़ रूपये लागत से एलीवेटेड कॉरिडोर का निर्माण कार्य शीघ्र प्रारंभ होगा। इस कॉरिडोर के निर्माण में आने वाली व्यवहारिक दिक्कतों का निराकरण भी सभी संबंधित विभागों के समंवित प्रयासों से शीघ्र कर लिया जायेगा। इसके लिए तेज गति से प्रयास प्रारंभ कर दिये गये है।

बैठक में मंत्री वर्मा ने विभागीय कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होने कहा कि प्रदेश में सडकों एवं पुल-पुलियाओं का निर्माण कार्य हमारी प्राथमिकता है। हमारी सरकार का प्रयास है कि सडकों एवं पुल-पुलियाओं का निर्माण तेज गति से हो। इनमें आने वाली बाधाओं को भी तेजी से दूर किया जाये। उन्होने इंदौर शहर में बढते यातायात के दवाब को दूर करने के लिए पुलों के निर्माण की जरूरत बताई। इसके लिए कार्य योजना बनाकर शहर में बड़े चैराहो पर ब्रिज निर्माण करने की कार्य योजना बनाकर अमल किया जा रहा है।

वर्मा ने कहा कि एलआईजी चैराहे से लेकर नवलखा चैराहे तक बनने वाले एलीवेटेड कॉरिडोर के निर्माण में मेट्रो रेल संबंधी ऊंचाई की व्यवहारिक दिक्कत आ रही है। संबंधित विभाग से मिलकर ऊंचाई कुछ कम कर निर्माण शीघ्र प्रारंभ किया जा सकता हैं। इसके लिए अधिकारियों को दिक्कत दूर करने के लिए आवश्यक निर्देश दिये। बैठक में मंत्री श्री वर्मा ने अन्य विभागीय कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com