इंदौर। कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने कहा एक ही महापौर के कार्यकाल के 3 माह मैं एक भी बताने लायक उपलब्धि नहीं रही है । सालों से चल रहे कामों को पूरा करने का वादा भी पूरा नहीं हो सका है।

शुक्ला ने महापौर के कार्यकाल के 3 माह पूरे होने के मौके पर आज महापौर के द्वारा किए गए दावों को हास्यास्पद बताया है । उन्होंने कहा कि महापौर ने यह वादा किया था कि अधूरे पड़े एमजी रोड के निर्माण को पूरा करा दूंगा लेकिन वह रोड भी पूरा नहीं हो सका है । जितना बना उसमें भी घटिया निर्माण हुआ और उस घटिया निर्माण के किसी दोषी पर कार्यवाही भी नहीं की जा सकी । महापौर के द्वारा जिन भी टंकी से पेयजल प्रदाय करने का वादा किया गया था, वह भी पूरा नहीं हो सका है ।

शुक्ला ने कहा कि महापौर ने 3 माह के अंदर 20000 एलईडी लाइट लगाने का वादा किया था । यह वादा भी पूरा नहीं हुआ है ।सअब यह कहना कि ठेकेदार को सामान उपलब्ध नहीं हो सका, कोई जिम्मेदारी की बात नहीं है । महापौर ने जो वादा किया है तो वह वादा किसी ठेकेदार के दम पर नहीं किया था बल्कि नगर निगम के दम पर किया था।

Also Read: Indore: खेल मंत्री ने लॉन टेनिस में आजमाये अपने हाथ, आईटीएफ वर्ल्ड टूर टेनिस प्रतियोगिता का किया शुभारंभ

शुक्ला ने कहा कि राजवाड़ा का 4 साल से चल रहा काम अभी अधूरा है । केवल राजवाड़ा के आगे की तरफ लगे लोहे के जंगले हटवा देना ही उपलब्धि नहीं होता है। जवाहर मार्ग को चंद्रभागा से जोड़ने वाली सड़क अभी भी अधूरी पड़ी हुई है । सरवटे बस स्टैंड को गंगवाल बस स्टैंड से जोड़ने की सड़क का काम बंद पड़ा हुआ है। स्मार्ट यातायात व्यवस्था का वादा करते हुए अपने पद पर काबिज हुए महापौर ने 3 महीने के अपने कार्यकाल में यातायात व्यवस्था में सुधार की दिशा में एक भी काम नहीं किया है ।