अब इंदौर की नदियां साफ करेगी नगर निगम | Indore Nagar Nigam will now clean rivers

0
60

इंदौर, नगर प्रतिनिधि। तीसरी बार इंदौर को सफाई में नंबर एक का पुरस्कार मिलने के बाद राजवाड़ा पर हुए स्वागत समारोह में मेयर मालिनी गौड़ में कहा कि वे इंदौर के इस पुरस्कार के लिए जनता को बधाई देती हैं और धन्यवाद भी करती हैं.

must read: इंदौर फिर बना देश में सबसे स्वच्छ शहर

 

अब हमें इंदौर की नदियों की साफ सफाई करना है। मेयर मालिनी गौड़ ने कहा कि उन्होंने यह अवार्ड मिलने के बाद दिल्ली में मौजूद समारोह में कहा कि इंदौर की जनता ही यह कर सकती है, क्योंकि यहां की जनता जो ठान लेती है वह कर देती है। एक बार नहीं दो बार नहीं तीन बार लगातार यह अवॉर्ड मिला। इंदौर की जनता और नगर निगम कमिश्नर आशीष सिंह की टीम ने मिलकर कर दिखाया है।

उन्होंने कहा कि हमें इस बार तीन अवार्ड मिले हैं पहला अवॉर्ड सफाई का दूसरा अवॉर्ड सैयदना साहब के समारोह के दौरान तत्काल कचरे का निपटारा करना और तीसरा पुरस्कार हमें क्लीन सिटी का मिला है। पुरस्कार के लिए मैं हमेशा जनता को धन्यवाद दूंगी। आप सब लोग यहां पर इकट्ठा हुए हम सब इंदौर के नंबर वन होने का जश्न मना रहे हैं।

must read: चौथी बार भी मैदान नहीं छोड़ना चाहती महापौर

अब हमारा अगला टारगेट इंदौर की खान नदी को साफ करने का है। जिसके लिए काम शुरू हो चुका है। सारे पुल पुलिया के ऊपर हमने जाली लगाई है। ताकि कोई नदी में कचरा ना फेंके। इसके अलावा हमने नदियों की सफाई का निरंतर अभियान चलाने का तय किया है। जिस तरह से अहिल्याबाई होलकर के जमाने में इंदौर की नदी कल कल छल छल कर के बहती थी। फिर हमें वैसा ही नजारा देखने को मिलेगा। आप सबका सहयोग जरूरी है। इंदौर के लगातार नंबर वन आने के बाद हमने यह फैसला भी किया है कि हम इंदौर में ट्रेनिंग सेंटर बनाएंगे। जहां पर देशभर से आने वाले जनप्रतिनिधियों अफसरों और कर्मचारियों को यह सिखाया जाएगा कि किस तरह से इंदौर लगातार सफाई में नंबर वन रहा है।

must read: Swachchhata Survekshan Award 2019: Indore ने सफाई में लगाई हैट्रिक

पूरे देश की निगाहें हम पर थी। हम सभी उम्मीदों पर खरे उतरे हैं। महापौर ने कहा कि इंदौर की जनता हमेशा हमारा साथ देती है। पहली बार हमें पुरस्कार केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने दिया था। दूसरी बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुरस्कार दिया और जब वह इंदौर आए उन्होंने कहा था कि मैं हमेशा इंदौर आता था, लेकिन मुझे इस बार इंदौर आना पड़ा है। क्योंकि आपने शहर को फिर से नंबर वन बनाया। तीसरी बार पुरस्कार आज सुबह दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिया है। राजवाड़ा पर मालिनी गौड़ और कमिश्नर आशीष का आम जनता ने स्वागत किया। वहां पर आतिशबाजी भी की गई। कई लोगों ने जश्न मनाते हुए ढोलक की थाप पर नृत्य भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here