Breaking News

इंदौर में होने जा रही है देश की सबसे बड़ी चैरिटी

Posted on: 07 May 2018 11:42 by Surbhi Bhawsar
इंदौर में होने जा रही है देश की सबसे बड़ी चैरिटी

इंदौर, (हेमा लोवंशी): मानव सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है। दीन-हीन, दुखी,  लाचार, बीमार, असहाय  की सेवा से जो खुशी मिलती है, वो किसी और काम से नहीं मिलती। मानव सेवा को ही अपना लक्ष्य बना चुका शहर का अखिल भारतीय श्वेतांबर जैन महिला संघ केंद्रीय इकाई एक ऐसा ही ग्रुप है जो अपने सोशल कामों से लोगों के दिलों में कम समय में ही जगह बना चुका है। 15अखिल भारतीय श्वेतांबर जैन महिला संघ केंद्रीय इकाई द्वारा हर साल शिविर आयोजित किए जाते हैं, जिसमें बच्चों, बूढ़ों के साथ ही महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए काम किए जा रहे हैं। घमासान डॉट कॉम आप सभी को आज रूबरू करा रहा है अखिल भारतीय श्वेतांबर जैन महिला संघ केंद्रीय इकाई की अध्यक्ष ज्योति छाजेड़ से।

घमासान डॉट कॉम से बातचीत कर अध्यक्ष ज्योति छाजेड़ ने ग्रुप से जुड़ी कई बातें शेयर की, साथ ही वहीं संघ की आगामी योजनाएं भी बताई।

निशुल्क 108 नी रिप्लेसमेंट-
ज्योति छाजेड़ ने बताया कि शहर में सबसे बड़ी चैरिटी होने जा रही है।  मानव सेवा के सूत्र को अपनाकर 108 निशुल्क घुटना प्रत्यारोपण शिविर आयोजित किया जा रहा है। यह शिविर अखिल भारतीय श्वेतांबर जैन महिला संघ केंद्रीय इकाई एवं साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट इंदौर और यूनिक सुपर स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल द्वारा आयोजित किया जा रहा है। 10देश में पहली बार ओल्ड एज के लिए 108 निशुल्क नी रिप्लेसमेंट शिविर होने जा रहा है जो कि 3 महीने मई में आयोजित किया जाएगा। नी रिप्लेसमेंट अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉक्टर प्रमोद पी. नीमा के मार्गदर्शन में किया जाएगा।

108 दिव्यांगों का ऑपरेशन-
ज्योति छाजेड़ ने बताया कि 9 मई से 108 दिव्यांग बच्चों का ऑपरेशन डॉ प्रमोद पी नीमा के मार्गदर्शन में किया जाएगा। अभी तक 200 से ज्यादा बच्चों के रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं। हमारी कोशिश रहती है कि हर समाज के गरीब तबके के बच्चों को उनके पैरों पर खड़ा किया जाए ताकि वह अपने जीवन में आगे बढ़ सकें। 11ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड कपल ट्रिप-
संघ द्वारा साल भर में कई आयोजन किए जाते हैं, जिसमें वर्कशॉप से लेकर फॉरेन ट्रिप भी शामिल है। इस साल 8 जनवरी को ऑस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड विथ फैमिली ट्रिप कराई जाएगी। किसके माध्यम से महिलाओं को देश के बाहर का कल्चर जानने और समझने का मौका मिलेगा। 12महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई शिविर आयोजित किए जाते हैं। उमंग उत्सव मेला आयोजित किया जाता है। इस मेले में ऐसी महिलाओं को प्रमोट किया जाता है जो घरों में रहकर अचार, पापड़ ,बड़ी से लेकर होम डेकोर आइटम्स ,ज्वेलरी, एंब्रॉयडरी ,हैंड वर्क आदि के काम करती हैं। 13इसके साथ ही बच्चों की शिक्षा के लिए जरूरत का हर सामान वितरित किया जाता है। वहीं उनकी पढ़ाई ना रुके इसके लिए समय-समय पर संघ द्वारा ख़ास सब्जेक्ट की तैयारियां भी कराई जाती हैं। कुकिंग क्लास, ग्रूमिंग क्लास, मेकअप वर्कशॉप के साथ ही कई  शिविर आयोजित किए जाते हैं ताकि महिलाएं आत्मनिर्भर बने। 14

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com