गणेशोत्सव: इस बार भी ख़ास संदेशों के साथ आया इंदौर का ‘सांई राम मित्र मंडल’

0
17
sai_ram_mitra_mandal_indore

इंदौर शहर में ‘सांई राम मित्र मंडल’ द्वारा हर साल की तरह इस साल भी गणेश उत्सव का आयोजन किया जा रहा हैं। ये मित्र मंडल हर साल गणेश जी की प्रतिमा के जरिए जनता को महत्वपूर्ण संदेश देते है। इस बार भी सांई’ राम मित्र मंडल’ गणेश प्रतिमा के जरिए ख़ास संदेश लेकर आया है।

sai_ram_mitra_mandal_indore

आईए आपको बताते है इस बार ‘सांई राम मित्र मंडल’ द्वारा दिए जा रहे ख़ास संदेश के बारे में-

– इस गणेश प्रतिमा में भारत माता की गोद में नन्ही बालिका के द्वारा दर्शाया गया है कि मंदसौर में जो दुष्कर्म गठित हुआ है वो किसी और बालिका के साथ गठित ना हो। इसके साथ ही ‘सांई राम मित्र मंडल’ ने संदेश दिया है कि
“कैंडल नहीं लाए रस्सी, अबकी बार फांसी पर लटकाएंगे.
ना पापा मैं लौटकर आऊ, तेरे इस जहां में,
दुनिया मुझे घूरकर देखे, पग-पग हैवान है,
जिसकी पूजा की सदियों से, क्यों डर में वो नारी है”

– इसके अलावा प्रतिमा में एक बाल श्रमिक के द्वारा ‘कब पढूंगा, कब बढूंगा, काम कर-करके ही मरूंगा’ दर्शाया गया हैं।

sai_ram_mitra_mandal_indore

– एक मूषकराज द्वारा प्रतिमा में डिजिटल इंडिया का संदेश देते हुए बताया है और दूसरे मूषकराज द्वारा ‘मैं पढ़ा, मैं बढ़ा, मेरे भारत देश का नाम बढ़ा’ दर्शाया गया हैं।

sai_ram_mitra_mandal_indore

– इसके साथ ही प्रतिमा में मूषकराज द्वारा दर्शाया गया है कि ‘कपड़ा थैली का इस्तेमाल करे और धरती मां को प्रदूषित होने से बचाए’।

– एक पुस्तक द्वारा इसमें दर्शाया गया है कि ‘हिंदी और अंग्रेजी भाषा दोनों अनिवार्य है, लेकिन सभी पालकों से निवेदन है कि हिंदी हमारी मातृभाषा है, कृपया इसे ना भूले’।

sai_ram_mitra_mandal_indore

– इसके साथ ही इस प्रतिमा में ‘धर्म की रक्षा करते-करते भारत माता रूठ जाएगी’ का संदेश देते हुए आम नागरिकों को ‘सांई राम मित्र मंडल’ ये बताना चाहता है कि ‘हर व्यक्ति यह क्यों कहता है मैं हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई हूं, कोई ये क्यों नहीं कहता कि मैं हिंदुस्तानी हूं”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here