राजस्व प्रकरणों के निराकरण में इंदौर संभाग प्रदेश में दूसरे स्थान पर

संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी के निर्देश पर राजस्व प्रकरणों का निराकरण समय-सीमा में प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित किया जा रहा है।

0
28
indore collector office

इंदौर: इंदौर संभाग में राजस्व प्रकरणों का निराकरण प्राथमिकता के साथ किया जा रहा है। राजस्व प्रकरणों के निराकरण में इंदौर संभाग प्रदेश में दूसरे स्थान पर है। इसके साथ ही इंदौर संभाग का अलीराजपुर जिला प्रदेश में अव्वल है और इसे मिलाकर संभाग के तीन जिले प्रदेश में टॉप-10 की सूची में है। संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी के निर्देश पर राजस्व प्रकरणों का निराकरण समय-सीमा में प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित किया जा रहा है।

बताया गया है कि राजस्व प्रकरण के निराकरण में इंदौर संभाग होशंगाबाद के बाद दूसरे स्थान पर है। इंदौर संभाग में कुल 96 हजार 643 राजस्व प्रकरणों का निराकरण इस वर्ष अब तक किया जा चुका है। यह कुल पंजीकृत प्रकरणों का 75 प्रतिशत है। संभाग में गत वर्ष के लंबित 33 हजार 192 प्रकरण थे, जारी वर्ष में 96 हजार 292 प्रकरण दर्ज हुए, इसे मिलाकर कुल पंजीकृत प्रकरणों की संख्या एक लाख 29 हजार 484 थी। इसमें से 96 हजार 643 प्रकरण निराकृत किये जा चुके है।

इसी तरह संभाग के तीन जिले अलीराजपुर, बड़वानी और खण्डवा टॉप-10 में हैं। संभाग के अलीराजपुर जिले में कुल पंजीकृत प्रकरणों में से 90 प्रतिशत प्रकरणों का निराकरण कर प्रथम स्थान प्राप्त किया है। अलीराजपुर जिले में 11 हजार 740 प्रकरणों में से 10 हजार 516, बड़वानी जिले में 12 हजार 882 प्रकरणों में से 10 हजार 658 तथा खण्डवा जिले में 15 हजार 753 प्रकरणों में से 12 हजार 348 प्रकरण निराकृत किये गये हैं। संभाग का बड़वानी जिला दूसरे तथा खण्डवा जिला छठवां स्थान पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here