Breaking News

प्रदेशभर में गणगौर की धूम, सज-धजकर पाती खेलने पहुंच रही है महिलाएं | Ganghor Vrat – The spiritual world | From religion to spiritualuality

Posted on: 03 Apr 2019 12:26 by shivani Rathore
प्रदेशभर में गणगौर की धूम, सज-धजकर पाती खेलने पहुंच रही है महिलाएं | Ganghor Vrat – The spiritual world | From religion to spiritualuality

निमाड़ और राजस्थान के विश्व प्रसिद्ध त्यौहार गणगौर(Gangaur) की इन दिनों धूम मची हुई है। कई गांव से लेकर शहरों में गणगौर पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस त्यौहार की ख़ास बात यह है कि इस पर्व के दौरान महिलाओं को सजने-संवारने का मौका मिल जाता है और वह बहुत ही खुबसूरत संदाज में इस पर्व में रंगी हुई नजर आती है।gangaur utsav

आपको बता दे कि बैंड बाजों की मधुर स्वरलहरियों व मंगल गीतों के साथ महिलाएं व युवतियां सज-धज कर बगीचों में ईशर-गणगौर को पानी पिलाने और जल लाने पहुंच रही है। ईशर-गणगौर की प्रतिमाओं के साथ महिलाएं हंसी ठिठोली करते हुए अपने सामूहिक ग्रुप के साथ गणगौर के इस पर्व में एन्जॉय(enjoy) कर रही है।

Must read : महेश्वर के घाट पर ‘चुलबुल पांडे‘ का हुड़-हुड़ दबंग-दबंग

गणगौर का पर्व शुरू होते ही राजस्थान के हर क्षेत्र में गणगौर के गीतों की धुन सुनाई देती हैं। महिलाओं के साथ-साथ बालिकाओं व नव विवाहिताओं में त्यौहार को लेकर काफी ज्यादा उत्साह देखने को मिलता है। इस पर्व के दौरान सभी अपनी अपनी परम्पराओं के अनुसार पूजन विधि से माता जी को खुश करते है।

gangaur utsav womens enjoyed

इस पर्व के दौरान गणगौर माताजी के लिए घरों में गुणे बनाए जाते है जिसके लिए तैयारियां शुरू हो चुकी है। इस खास मौके के लिए नव विवाहिताओं को लहरिया, गुणे और सुहाग सामग्री भेजने के लिए खरीददारी जोरों पर है। हलवाइयों ने घेवर बनाने शुरू कर दिए हैं।

must readदेश में सबसे ज्यादा इंदौर की महिलाएं करेगीमतदान

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com