सेक्स अपराध और ब्लैक मेलिंग की सनसनीखेज कहानी, अर्जुन राठौर की कलम से

0
61

इंदौर किस तरह से सेक्स अपराध और ब्लैकमेलिंग का केंद्र बनता जा रहा है इसका सबसे बड़ा उदाहरण है हाल ही में हुआ एक सनसनीखेज घटनाक्रम है जिसमें एक पत्रकार और एक महिला द्वारा आत्महत्या करने के प्रकरण सामने आए। यह पूरी कहानी बेहद चौंकाने वाली है इस कहानी का घटनाक्रम उलझा हुआ है और जो तथ्य सामने आए हैं उनसे पता चलता है इस मामले में 1 बिल्डर से करोड़ों की अवैध वसूली करने का प्रयास भी किया गया था।

कुछ दिनों पहले इंदौर के पत्रकार अजय जायसवाल द्वारा आत्महत्या कर ली गई थी हालांकि आत्महत्या को संदिग्ध माना गया अब एक चौंकाने वाली बात यह सामने आई है 27 साल की शिखा हलदुनिया नामक महिला ने जो सुसाइड नोट लिखा है उसमें कहा है कि पत्रकार अजय जयसवाल की मौत की जिम्मेदार वह खुद है उसने यह भी कहा है कि वह अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रही है।

पुलिस के अनुसार अभी तक की जांच में एक बड़ा रैकेट सामने आया है जिसमें गुंडों द्वारा इस महिला को बड़े-बड़े लोगों को ब्लैकमेल करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था । एरोड्रम रोड के कॉलोनाइजर से 2 करोड रुपए की मांग की गई थी । लेकिन बिल्डर ने उसी महिला से सबूत लेकर और उसके खिलाफ षड्यंत्र रचने वालों को जेल पहुंचा दिया था उसका यह भी कहना है कि शिखा ने कुछ दिन पहले असामाजिक तत्व राजा सांखला नितिन उर्फ जान यादव ओर सुनील और लखन के खिलाफ सामूहिक गैंगरेप का आरोप लगाया था। राजा और सुनील पहले से शिखा को जानते थे और उन्होंने इस महिला की मदद से कई लोगों को ब्लैकमेल करने का प्रयास किया था यह लोग महिलाओं को आगे कर उसके साथ वीडियो बना लेते थे और बाद में ब्लैक मेलिंग करते थे।

पुलिस इस पूरे मामले की गुत्थी सुलझाने में लगी है लेकिन यह रहस्य अभी भी बरकरार है इस महिला ने ऐसा क्यों लिखा कि पत्रकार अजय जायसवाल की आत्महत्या के लिए वह खुद जिम्मेदार है । इंदौर में से पहले भी सलोनी अरोरा नामक महिला के कारण दैनिक भास्कर ग्रुप के संपादक कल्पेश याग्निक ने आत्महत्या कर ली थी।

अर्जुन राठौर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here