भारत के 1.5 करोड़ स्मार्टफोन पर खतरा! चोरी हो सकता है निजी डेटा

0
59

भारत सहित कई देशों के एंड्राइड फोन यूजर्स के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। दरअसल दुनिया के करीब 2.5 करोड़ एंड्रॉयड फोन पर ‘एजेंट स्मिथ’ नाम के एक वायरस ने हमला बोल दिया है। इजराइली साइबर सिक्योरिटी रिसर्च कंपनी चेक पॉइंट की माने तो इस वायरस ने भारत जैसे विकासशील देेशों के एंड्रॉयड यूजर्स को अपना निशाना बनाया है। इस खतरनाक वायारस से यूजर्स के ओरिजनल ऐप्स हैक हो जाते हैं और उसका डुप्लीकेट वर्जन इन्साल हो जाता है। इस वायरस की मदद से यूजर्स का निजी डेटा भी हैकर चोरी कर सकते हैं।

गूगल प्ले स्टोर से हटाए सभी संक्रमित ऐप

कंपनी की ओर से एक रिपार्ट भी पेश की गई है जिसमें का दावा है कि उसने इस वायरस की खोज की है। कंपनी का कहना है कि उसने इस वायरस से निपटने के लिए गूगल के साथ काम किया है। साथ ही कंपनी ने कहा कि इस रिपोर्ट के पेश किए जानेे के वक्त तक गूगल प्ले स्टोर से सभी संक्रमित ऐप को हटा दिया गया था।

इन भाषाओं का उपयोग करने वाले यूजर्स को बनाया निशाना

कंपनी के मोबाइल थ्रेट डिटेक्शन रिसर्च विंग के प्रमुख जोनाथन शिमॉनविच ने बताया कि विशेष तौर पर हिंदी, अरबी, रूसी, इंडोनेशियाई भाषा का उपयोग करने वाले यूजर्स के फोन को इस वायरस ने अपनी चपेट में लिया है। वहीं इस वायरस ने सबसे ज्यादा भारतीय यूजर्स के फोन को प्रभावित किया है।

पड़ोसी देशों को भी बनाया शिकर

बताया जा रहा है कि इस वायरस से पड़ोसी देश , बांग्लादेश समेत अन्य एशियाई देशों में भी इस वायरस का असर हुआ है। कंपनी का दावा है कि ब्रिटेन, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में भी इस वायरस से बड़ी संख्या में यूजर्स के फोन का अपना शिकार बनाया है। कंपनी की ओर से उन्होंने फोन यूजर्स को थर्ड पार्टी ऐप स्टोर से कोई भी एप्लिकेशन डाउनलोड नहीं करने की हिदायत भी दी है।

इसके अलावा कंपनी ने बताया कि इस वायरस के माध्यम से यूजर्स को फर्जी विज्ञाापन भी दिखाए जा रहे हैं। जिसमें यूजर्स को आर्थिक लाभ का लालच दिया जा रहा है। इसका मकसद यूजर्स की बैंक डिटेल चोरी करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here